Breaking News
  • नगालैंड दौरे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, 27 फरवरी को होने हैं चुनाव
  • जम्मू-कश्मीर: पाकिस्तान ने फिर किया संघर्ष विराम का उल्लंघन, सेना दे रही है मुंहतोड़ जवाब
  • केजरीवाल सरकार का फैसला, दिल्ली में राशन के लिए आधार कार्ड नहीं होगा अनिवार्य
  • पीएनबी घोटाला: विपुल अंबानी 5 मार्च तक सीबीआई हिरासत में

केंद्र की इस योजना पर शुरू हुआ काम, बजट सत्र में हुई थी घोषणा

नई दिल्ली: मोदी सरकार द्वारा बजट सत्र साल 2018-2019 पेश के दौरान ट्रेनों में सीसीटीवी लगाने की घोषणा की थी, वहीँ सरकार की इस योजना को अमली जामा पहनाने की तैयारी शुरू हो गयी है। बताया जा रहा है यात्रियों की सुरक्षा के लिए प्रमुख ट्रेनों के कोचों में सीसीटीवी लगाने का काम जल्द ही शुरू होने वाला है।

बतादें कि रेलवे के एक अधिकारी के अनुसार ट्रेन में यात्रियों की सुरक्षा के लिए शताब्दी, राजधानी, दुरंतो सहित कई हाईक्लास ट्रेनों के कोचों में चार-चार सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे। जिसमें 18 जोड़ी दुरंतो, 23 जोड़ी राजधानी और 26 जोड़ी शताब्दी ट्रेन शामिल है। सीसीटीवी लगाने को लेकर उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक विश्वेश चौबे ने कहा कि कि ‘सभी राजधानी, शताब्दी और दुरंतो ट्रेनों के डिब्बों में चार-चार सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे। इनमें से एक-एक सीसीटीवी कैमरे दोनों प्रवेश द्वारों पर बाकी गैलरी में लगेंगे।

धमाकेदार ऑफर- 1 रु में मिलेगा अनलिमिटेड डाटा...!

भ्रष्टाचार के आरोप में पूर्व प्रधानमंत्री को पांच साल की कैद

यात्रियों की सुरक्षा के लिहाज से यह कदम उठाया जा रहा है। जहाँ सरकार ने इसी साल बजट सत्र में ट्रेनों में सीसीटीवी लगाने की घोषणा की थी। अधिकारी ने बताया कि साल 2018-19 के 11,000 ट्रेनों में सीसीटीवी कैमरे लगाने के लिए 3,000 करोड़ रुपए आवंटित किए गए हैं। केंद्र सरकार ने रेलवे में सुधार के लिए हजारों का करोड़ रुपये का आवंटन किया है। वहीँ अब सरकार जल्द से जल्द घोषणा की गयी योजनाओं को अमल में लाना चाहती है।

यह भी देखें-

loading...