Breaking News
  • गुजरात: 44 बिल्डर्स और फाइनेंसरों के कई ठिकानों पर आयकर विभाग के छापे
  • सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों की वार्षिक समीक्षा बैठक में वित्त मंत्री, कर्ज देने की प्रक्रिया को ईमानदार बनाएं बैंक
  • उत्तर भारत में मौसम का कहर जारी, हिमाचल में 3 की मौत, बादल फटने से मची तबाही
  • भारत-पाक विदेश मंत्रियों की वार्ता रद्द होने के बाद सार्क बैठक पर संकट

BUDGET2018: किसानों को लागत से दोगुना देने का एलान...

नई दिल्ली: ससंद भवन में आज एक फरवरी 2018 गुरुवार को सदन की कार्यवाही शुरु होने के साथ ही महाराष्ट्र से बीजेपी के वरिष्ठ सांसद चिंतामन वंगा को श्रद्धांजलि दिया गया और फिर संसद सदस्यों ने दिवंगत सांसद के लिए मौन भी धारण किया। जिसके बाद अब केंद्र की मोदी सरकार में वित्त मंत्री का पद संभाल रहे अरुण जेटली अपनी सरकार का आखिरी बजट पेश कर रहे हैं।

संसद भवन में सुबह 11 बजे से वित्त मंत्री अरुण जेटली भाषण पढ़ रहे हैं। इस दौरान जेटली ने कहा कि जीएसटी आने के बाद टैक्स बढ़ा है, बाजार में कैश का प्रचलन कम हुआ है। हमारी अर्थव्यवस्था पटरी पर है, भारत दुनिया की पांचवीं बड़ी अर्थव्यवस्था बनेगी। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि सरकार जीएसटी को आसान बनाने की कोशिश कर रही है।

न्यू इंडिया की परंपरा- सांसद के मौत के बाद भी पेश हुआ बजट...

जेटली ने कहा कि सरकार का फोकस गांवों के विकास पर होगा. मध्य वर्ग की जिंदगी में सरकारी दखल कम करने की कोशिश जारी है। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार अब 'इज आफ बिजनेस डूंइंग' से आगे बढ़कर आम आदमी की जिंदगी आसान बनाने के लिए 'इज ऑफ लिविंग' पर जोर दे रही है।

बजट 2018: हिंदी में भाषण देंगे जेटली- इससे पहले मचा संग्राम...

वित्त मंत्री ने कहा कि हमारी सरकार के पिछले 3 सालों में औसत विकास दर 7.5 प्रतिशत पहुंची, भारतीय अर्थव्यवस्था 2.5 ट्रिलियन डॉलर की हुई है। सरकार के मंत्री ने कहा कि आर्थिक सुधार पर इमानदारी से काम हो रहा है. सर्विस डिलीवरी के काम को सहज औऱ बिचौलियों से फ्री बनाया  गया है।

जेटली ने बताया कि सर्विस सेक्टर में 8 प्रतिशत की दर से तरक्की हुई है। उन्होंने कहा कि बजट का फोकस कृषि और ग्रामीण अर्थव्यवस्था, स्वास्थ्य और वरिष्ठ नागरिकों पर होगा। बजट भाषण के दौरान जेटली ने किसानों को लागत से दोगुना देने का एलान किया है। उन्होंने कहा कि खरीफ का समर्थन मूल्य उत्पादन लागत से डेढ़ गुना होगा।

बजट से पहले बीजेपी के लिए बुरी खबर!

मंत्री ने कहा कि अनाज का रिकार्ड उत्पादन हुआ है, किसानों की आय दुगुना करने का संकल्प है। इसके साथ ही मंत्री ने बताया कि साल 2022 तक किसानों की आय को दोगुना करेंगे और किसान उत्पादन बढ़ाने की कोशिश करेंगे।

loading...