Breaking News
  • सोनभद्र जमीन मामले में अब तक 26 आरोपी गिरफ्तार, प्रियंका करेंगी मुलाकात
  • वेस्टइंडीज दौरे के लिए रविवार को 11:30 बजे होगा टीम इंडिया का चयन
  • बिहार : बाढ़ से अब तक 83 लोगों की मौत
  • कर्नाटक में आज दोपहर डेढ़ बजे तक सरकार को साबित करना होगा बहुमत

जनसंख्या नियंत्रण को लेकर भारत सरकार के नाम यह अनोखा पत्र, कहा ...देश की बर्बादी

नोएडा : जनसंख्या एक ऐसी समस्या हैं जो सिर्फ संसाधनों को ही नहीं, बल्कि मानव जाति के भविष्य को भी निगल रहा है। क्योंकि जिस तरह हमारे देश की जनसंख्या बढ़ रहीं है, उसकी अपेक्षा हमारे संसाधनों में वृध्दि नहीं बल्कि कमी हो रहीं है। बेरोजगारों की संख्या में भी दिन प्रतिदिन बढ़ोतरी हो रहा है लेकिन न सरकार चेत रहीं हैं और न आम नागिरक।

देश के सामने परेशानियों का अंबार उमड़ पड़ा है, इन्हीं समस्याओं को देखते हुए जनसंख्या समाधान फाउंडेशन ने प्रधानमंत्री और भारत सरकार के नाम एक ज्ञापन सौंपा है। जिसमें उन्होंने दो बच्चों के कानून को लागू करने का निवेदन किया है। इस ज्ञापन को सौंपने से पहले कार्यकर्ताओं ने भारत माता की जय, वंदे मातरम् के नारे लगाते हुए जनसंख्या नियंत्रण(बढती जो आबादी है, देश की बर्बादी है) के नारे भी लगाए।

इस दौरान देशभर के लगभग 400 जिला मुख्यालयों पर जनसंख्या नियंत्रण कानून को लेकर फाउंडेशन गुरूवार यानी 11 जुलाई को धरना भी दे रहा है। जिसकी अध्यक्षता संस्था के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनिल चौधरी कर रहें है। चौधरी ने कहा कि इससे पहले भी संस्था के प्रतिनिधिमंडल, इस विषय में 9 अगस्त 2018 को भारत के राष्ट्रपति से भेंट करके उन्हें कानून की मांग के समर्थन में 125 सांसदों द्वारा हस्ताक्षरित संस्था का मांगपत्र सौंपा था, साथ ही जनसंख्या नियंत्रण कानून बनाने की प्रक्रिया आरंभ करने का अनुरोध भी किया था। हालांकि इस मसले पर ऐसा कुछ भी देखने को नहीं मिला।

बता दें कि इस धरने में संस्था के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनिल चौधरी, ममता सहगल, योगेंद्र अरोड़ा, कविता सिरोही, रामबाबू धामा, मनु पाल बंसल, सुमन श्रीवास्तव, एम एल शर्मा, गब्बर चौहान, अवधेश गर्ग, हिमांशु पोखरियाल, रुचि गर्ग, अनिल चौधरी, विकी कुमार, रीतेश सिह, किशन परीदा,  राजेश शांडिल्य, महेंद्र चौहान, प्रेमनाथ जैन आदि शामिल रहे।

loading...