Breaking News
  • 18वां कारगिल विजय दिवस आज- शहीद सैनिकों को नमन कर रहा है देश
  • फसल बीमा से जुडी कम्पनियाँ नुकसान का फ़ौरन आंकलन करें- मोदी
  • पाकिस्तानी आतंकवादी मोहम्मद कोया को कर्नाटक कोर्ट से 7 साल की सजा
  • भारत-श्रीलंका के बीच पहला टेस्ट मैच गाले में आज रंगना हेराथ संभालेंगे कप्तानी, चांदीमल बाहर
  • बाढ़ प्रभावित गुजरात में हवाई सर्वेक्षण के बाद पीएम ने किया 500 करोड़ का ऐलान
  • राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल का चीन दौरा- BRICS देशों की बैठक में लेंगे हिस्सा

चीन की बढ़ी टेंशन: भारत, अमेरिका और जापान ने शुरू किया संयुक्त युद्धाभ्यास


नई दिल्ली: सोमवार से बंगाल की खाड़ी में भारत, अमेरिका और जापान की सेना ने बड़ा सैन्य अभ्यास शुरू कर दिया है। उसे मालाबार सैन्य अभ्यास के नाम से भी जानते हैं। वहीँ सेना के इस अभ्यास से चीन बुरी तरह बौखलाया हुआ है।    

बतादें कि सोमवार से भारत ने हिंद महासागर में अपना वार्षिक सैन्य अभ्यास शुरू कर दिया है। इस सैन्य अभ्यास में भारत, अमेरिका और जापान की सेनायें भाग ले रही हैं। हिंद महासागर की बंगाल की खाड़ी में हो रहा भारत, अमेरिका और जापान का यह संयुक्त युद्धाभ्यास दुनिया के इतिहास का सबसे बडा नौसेनिक युद्धाभ्यास है।

इसमें 20 जंगी जहाज और दर्जनों फाइटर जेट्स हिस्सा ले रहे हैं। यह अभ्यास 10 जुलाई से लेकर 17 जुलाई तक चलेगा। वहीँ इस सैन्य अभ्यास को देखकर चीन का मानसिक संतुलन बिगड़ा हुआ है। चीन का कहना है कि भारत इसे दिखावे के लिए यह सब कर रहा है, जबकि बतादें कि यह सैन्य अभ्यास कई वर्षों से होता आया है। भारत चीन के बीच सिक्किम सीमा विवाद के बाद बनी तनातनी को देखते हुए यह मायनों में अहम् माना जा रहा है।

चीन इस सैन्य अभ्यास के नाम से बेचैन है, अभी हाला ही में हिन्द महासागर के भारतीय सीमा में चीनी घुसपैठ देखी गयी थी, जिसके लिए लिहाज से भी यह सैन्य अभ्यास चीन के लिए खतरे की घंटी लग मालूम पड़ रहे हैं।

सीमा पर तनाव: पाकिस्तान ने रिहा किये 78 भारतीय मछुआरे

मालूम हो कि भारत,अमेरिका और जापान की सयुंक्त सेनायें मालाबार में प्रति वर्ष सैन्य अभ्यास करती हैं। यह ड्रिल सेना की ताकत और प्रशिक्षण हेतु की जाती है। इसबार की दरी में अमेरिका का सबसे बड़ा जंगी बड़ा यूएसएस निमित्ज, भारत का आईएनएस विक्रमादित्य और जापान का इजुमो जैसे भारी  भरकंप जंगी बड़े शामिल हो रहे हैं।    

loading...