Breaking News
  • चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने सुप्रीम कोर्ट में आज चार नए जजों को दिलाई शपथ
  • ह्यूस्टन में हाउडी मोदी कार्यक्रम की सफलता पर भड़का पाकिस्तान
  • आर्मी चीफ बिपिन रावत का बयान, पाकिस्तान ने बालाकोट में आतंकी कैंपों को फिर से सक्रिय कर दिया है
  • गृह मंत्री ने कहा कि कहा कि 2021 की जनगणना में मोबाइल एप का प्रयोग होगा

ताश के पत्तों की तरह बिखर रही है कांग्रेस, सीर से पांव तक कराह...

नोएडा : कभी प्रधानमंत्री मोदी और उनके खासम-खास ने कहा था कांग्रेस मुक्त-भारत। और आज हो रहा है कांग्रेस ताश के पत्तों की तरह बिखर रही है। एक समय में मजाक बनी भगवा पार्टी के सामने विपक्ष मजाक बनकर रह गया। लेकिन पीएम कुछ और कहते हैं।

नेताओं की हवा-हवाई बातों से नीचे उतरिए और जमीन पर देखिए। 2014 लोकसभा चुनाव में बीजेपी और एनडीए के सामने कांग्रेस और यूपीए का सफाया हो गया, तो 2019 के आम चुनाव में कांग्रेस का इकवाल ही कमजोर हो गया और अब बची-खुची कसर नेता-विधायक और मंत्री पूरा कर रहे हैं।

अजब-गजब-कब-कैसे, ये कैसे हो गया बेचारी मोदी के मारी, सबसे पुरानी पार्टी, कांग्रेस, सीर से पांव तक कराह रही है, 38 दिनों तक अड़े रहे अध्यक्ष ने आखिर इस्तीफा दे ही दिया। राहुल गांधी को इस्तीफे से कम कुछ भी मंजूर नहीं और इधर एक-एक कर कांग्रेसी सरकने लगे। इस्तीफों का रेला शुरू हो गया, बीजेपी वाले आवेदन-निवेदन और दनादन की लाइन पर तो कांग्रेस वालों का एक ही ठिकाना- बस कमल, सिर्फ कमल, कमल ही कमल। देश के अधिकांश हिस्सों में कमल। अमित शाह ने कहा था कि 50 प्रतिशत से अधिक राज्यों में बीजेपी हो सकता है शाह सियासी गणित समझा रहे हों लेकिन ये आकड़े....

कर्नाटक में कांग्रेस के 13 और जेडीएस के 3 विधायक बागी हो चुके हैं, इस्तीफा दे दिया है। गोवा में नेता विपक्ष समेत 10 विधायकों ने कांग्रेस को बीच मजधार में छोड़ भाजपा का दामन थाम लिया तो ममता दीदी के बंगाल में टीएमसी के 6 विधयक और 60 पार्षदों का बीजेपी में विलय हो गया। आंध्राप्रदेश के 4 टीडीपी सांसद बीजेपी में, (चेक करेंगे), तेलंगाना से टीआरएस के पूर्व विधायक और विधानसभा चुना की खुमारियों में चूर हरियाणा से राज्यसभा सासंद राम कुमार कश्यप समेत ने भगवा दामन थाम लिये हैं। जबकि राहुल गांधी के इस्तीफे के बाद कांग्रेस से रूसवा हुए अन्य कई नेताओं की कमल थामने की बेकरारी बांध तोड़ रही है। चाहे वो कर्नाटक या गोवा के विधायक हो या फिर पश्चिम बंगाल में टीएमसी और लेफ्ट के नेता, सब भाजपा में भी अपना भविष्य देख रहे हैं।

loading...