Breaking News
  • प्रधानमंत्री मोदी झारखंड और बंगाल दौरे पर
  • अमेरिका के राष्ट्रपति ट्रंप ने रद्द की किम जोंग के साथ होने वाली मुलाकात
  • PNB घोटाला: ED ने नीरव मोदी और करीबियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की
  • कर्नाटक: विधानसभा में कांग्रेस+जेडीएस के सीएम कुमारस्वानी की बहुमत परीक्षा

अभी अभी: कर्नाटक में कांग्रेस की जबरदस्त वापसी, बंट गयीं मिठाईयां?

बेंगलुरु: कर्नाटक विधानसभा चुनाव संपन्न हो गया है। शनिवार को राज्य की 224 विधानसभा सीटों में से 222 पर मतदान हो चुका है। राज्य में शाम तक कुल 70 फीसद मतदान हुआ है। वहीँ राज्य में बीजेपी कांग्रेस अपनी अपनी जीत का अनुमान लगाए बैठी है। इसी बीच एक चैनल Exit Poll दिखाकर राजनीतिक दलों की टेंशन बढ़ा दी है।  

बतादें कि राज्य में चुनाव खत्म हो गया है। राज्य की 222 सीटों पर कुल 70 फीसद रिकॉर्ड मतदान हुआ है। बढ़े मतदान ने जहाँ कई राजनीतिक दलों की टेंशन बढ़ा दी है तो कई दल इसी के सहारे अपनी जीत का आंकडा बनाने लगे हैं। इसी बीच मीडिया चैनल (आजतक) के एग्जिट पोल की मानते तो राज्य में नरेंद्र मोदी की बातों में जनता नहीं आई है। या कहें कि मोदी की भाषा ही जनता को समझ नहीं आई है और उसने क्षेत्रीयवाद को मानते हुए सिद्धारमैया के नाम पर वोट किया है। एग्जिट पोल के अनुसार राज्य में कांग्रेस पार्टी की सरकार वापसी कर रही है। राज्य के तमाम क्षेत्रों की सीटों पर जारी एग्जिट पोल में बताया गया है कि कांग्रेस पार्टी 120 से भी अधिक सीटों पर जीत दर्ज कर सरकार बना सकती है।

अगर क्षेत्र के अनुसार देखा जाए तो एग्जिट पोल  में बताया गया है कि राज्य की पुराना मैसूर की 63 सीटों में कांग्रेस को सबसे ज्यादा सीटें मिलती दिख रहीं हैं। यहाँ कांग्रेस 33, बीजेपी 11, और जनता दल सेक्युलर को 20 सीटें मिल सकती हैं। वहीँ एग्जिट पोल में बॉम्बे कर्नाटक की 50 सीटों में कांग्रेस के खाते में 18, बीजेपी को 30 या उससे अधिक मिल सकती हैं।

राज्य के तटीय और पहाड़ी कर्नाटक में कांग्रेस को 6 और बीजेपी को 13 सीटें मिलने की संभावना है। यहाँ कुल 19 सीटें हैं। वहीँ कर्नाटक रीजन की 40 में कांग्रेस के खाते में 33 सीटें जा सकती है जबकि बीजेपी को 7 सीटें मिलती दिख रहीं हैं। सेंट्रल कर्नाटक की 23 में बीजेपी को सबसे ज्यादा 14 मिल सकती हैं। वहीँ यहाँ कांग्रेस को 5 सीटें मिलने की संभावना है साथ ही जनता दल सेक्युलर के खाते में 4 सीटें जा सकती हैं। वहीं राजधानी बेंगलुरु शहर की 26 सीटों में 15 कांग्रेस, 10 बीजेपी और एक जनता दल सेक्युलर को जा सकती है।

वहीँ अगर वोट प्रतिशत की बात करें तो कांग्रेस को 39 फीसद और बीजेपी 35 फीसदी वोट मिलने का अनुमान है। साथ ही जनता दल सेक्युलर को 17 फीसद वोट मिल सकते हैं। अगर एग्जिट पोल की माने तो राज्य में कांग्रेस को 120 सीट या उससे अधिक सीटें मिल सकती हैं। हालाँकि यहाँ बीजेपी को बढ़त मिलती जरुर दिख रही है।

कर्नाटक: 70 फीसद मतदान के साथ EVM में बंद हुआ कर्नाटक का भविष्य....

कर्नाटक: खुलेआम बिक रहे थे वोट, कांग्रेस-बीजेपी लगा रहीं थीं 500 और 600 रु में बोली!

बीजेपी को 80-90 सीटें मिलने का अनुमान  है जबकि जनता दल सेक्युलर को 22-30 मिल सकती हैं। एग्जिट पोल में राज्य में कांग्रेस की सरकार की वापसी हो रही है। यहाँ यह भी जानना जरुरी है कि एग्जिट पोल के नतीजों के आधार पर सरकार नहीं बनती है। इसके लिए 15 मई तक का इंतजार करना होगा। 15 मई को तय होगा कि राज्य का अगला किंग कौन बनेगा?    

यह भी देखें-

loading...