Breaking News
  • आज शाम 6 बजे तक खत्म हो सकता है कर्नाटक का नाटक, कुमारस्वामी करेंगे फ्लोर टेस्ट
  • बिहार के दरभंगा में अभी भी बाढ़ से राहत नहीं, लोगों ने सड़क पर ठिकाना
  • आज होगा ब्रिटेन के अगले प्रधानमंत्री का चयन
  • बीजेपी संसदीय दल की बैठक के बाद, पीएम मोदी कर सकते हैं सांसदों को संबोधित

कासगंज हिंसा: पत्रकार अभिसार शर्मा ने खोल दी इस न्यूज चैनल की पोल, देखें video

नई दिल्ली :- रविवार को देश के जाने माने पत्रकार अभिसार शर्मा ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट शेयर किया। यह एक वीडियों पोस्ट था, जो देखते ही देखते वायरल हो गया। इस वीडियों में पत्रकार शर्मा ने उत्तर प्रदेश के कासगंज में हुए विवाद को लेकर न्यूज चैनल आज तक की पोल खोल कर रख दी है।

5वीं की छात्रा ने क्यों लगाया मौत को गले- 11 पर केस दर्ज...

ये घटना तब हुई, जब हिंदुत्व समर्थकों ने मुस्लिम समुदाय के लोगों को गणतंत्र दिवस मनाने से रोका, जिसके बाद वहां विवाद बड़ गया और एबीवीपी के चंदन गुप्ता नामक एक लड़के की गोली लगने से मौत हो गई जबकि कुछ अन्य लोग घायल भी हुए थे।

अभिसार ने इस वीडियों में चैनल और उसके तथाकथित पत्रकारों को नाम न लेते हुए उनकी पोल खोल कर रख दी। वहीं फेसबुक लाईव का ये क्लिप अब सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर वायरल हो रहा है, जिसमें पत्रकार, वकील और सिविल सोसायटी के सदस्यों ने सच्चाई बताने की उनकी क्षमता के लिए सराहना की है।

इससे पहले की मीडिया रिपोर्टों में दावा किया गया था कि क्षेत्र के मुसलमानों ने अपने पड़ोस में यात्रा करने के लिए भारतीय राष्ट्रीय झंडे ले जाने वाले हिंदू युवाओं को अनुमति नहीं दी थी। यह, पहले की रिपोर्ट के अनुसार, हिंसा की जड़ थी।

विभीषण नहीं मंदोदरी की इस भूल के कारण रावण की हुई थी मौत...

हालांकि, रविवार को एक नया वीडियो उभर के सामने आया, जिससे यह स्पष्ट रूप से स्पष्ट हो गया कि एबीवीपी और वीएचपी के समर्थकों द्वारा किए गए दावों में कोई सच्चाई नहीं थी। उनके दावों के विपरीत, वीडियो ने दिखाया कि कासगंज के मुस्लिम इलाके में हिंदुत्व ब्रिगेड से जुड़े युवाओं ने भारतीय राष्ट्रीय झंडे और भगवा झंडे दोनों को ले जाने वाले मोटरबाइकों पर कैसे पहुंचे थे।

स्थानीय अधिवक्ता मुनाजिर ने एबीपी न्यूज़ से कहा था कि युवाओं ने बाइक पर आकर उन्हें गणतंत्र दिवस मनाने से रोक दिया और राष्ट्रीय ध्वज को फैराने वाले डंडे को भी उखाड़ दिया।

IPL 2018: नीलामी के दौरान छाई रही 16 साल की यह लड़की- इस एक्ट्रेस की है बेटी...

ऐसा लगता है कि इंडिया टुडे समूह ने अब हिंदुत्व एजेंडे का समर्थन करने के लिए खुले में बाहर आने का फैसला किया है। ग्रुप से जुड़े कई ऑन-एयर चेहरे एक राजनीतिक दल के पक्ष में अपने पूर्वाग्रह दिखा रहे हैं। प्रबंधन के अभिनय से इनकार करने से पता चलता है कि समूह के भीतर इन कथित हिंदुत्व के सैनिकों को अपनी स्वीकृति मिली है।

loading...