Breaking News
  • सोनभद्र जमीन मामले में अब तक 26 आरोपी गिरफ्तार, प्रियंका करेंगी मुलाकात
  • वेस्टइंडीज दौरे के लिए रविवार को 11:30 बजे होगा टीम इंडिया का चयन
  • बिहार : बाढ़ से अब तक 83 लोगों की मौत
  • कर्नाटक में आज दोपहर डेढ़ बजे तक सरकार को साबित करना होगा बहुमत

ओवैसी को देखते ही संसद में लगे जय श्री राम के नारें, बोले ‘अल्लाह-हू-अकबर’

नोएडा : जय श्री राम, अल्लाह-हू-अकबर... जय श्री राम, अल्लाह-हू-अकबर... ये नारें है संसद भवन के, जिस भवन में जनहित के लिए, देशहित के लिए निर्णय लिये जाते है। संसद सत्र का आज दूसरा दिन है, लेकिन संसद सत्र  के इस दूसरे दिन को देखकर ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि आने वाला दिन काफी गहमागहमी भरा रहेगा। आपको बता दें कि ये नारें बीजेपी और उनके सहयोगी दल तथा AIMIM के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी के द्वारा लगाया जा रहा था। एक तरफ बीजेपी और उनके सहयोगी दल जहां ‘जय श्री राम’ का नारा लगा रहे थे, वहीं ओवैसी ‘अल्लाह-हू-अकबर’ का नारा लगा रहें थे।

बता दें कि ये सभी घटना उस दरम्यान हुआ जब ऑल इंडिया मजलिस-इ-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी अपनी सीट से उठकर शपथ के लिए वेल में आए। इसके बाद ओवैसी ने कहा कि अच्छा है मुझे देखकर उन्हें ये शब्द याद आए, काश उन्हें बच्चों की मौत भी याद आ जाए। हालांकि ओवैसी ने भी जय श्री राम के नारें का जवाब दोनों हाथों को ऊपर उठाते हुए अल्लाह-हू-अकबर के नारे से दिया। इसके बाद उन्होंने अपनी शपथ पूरी की और अंत में जय भीम, जय मीम, अल्लाह-हू-अकबर और जय हिन्द के नारे लगाए।

इसके बाद उन्होंने प्रेस को संबोधित कर कहा कि अच्छी बात है कम से कम मुझे देखकर उन्हें राम की याद तो आई। उम्मीद है कि बीजेपी वालों को संविधान और मुजफ्फरपुर में बच्चों की मौत भी याद रहेगी।

गौरतलब है कि ओवैसी शुरू से ही केंद्र की मोदी सरकार के खिलाफ मुखर होकर बोलते आए हैं। फिर चाहे राम मंदिर का मसला हो या फिर तीन तलाक से जुड़ा बिल, इन तमाम अहम मुद्दों को लेकर ओवैसी ने लगातार 5 साल तक मोदी सरकार की खिलाफत की है। जिस वज़ह से संसद में ऐसी स्थिति उत्पन्न हुई। हालांकि मामला जो भी हो लेकिन संसद में इस तरह की गतिविधियों को होना कहीं न कहीं संसद सत्र के दौरान उतपन्न होने वाले अवरोध की ओर इशारा करता है।

loading...