Breaking News
  • मंदी से निपटने के लिए सरकार ने किए बड़े ऐलान, ऑटो सेक्टर को होगा उत्थान
  • तीन देशों की यात्रा के दूसरे चरण में यूएई की राजधानी आबू धाबी पहुंचे मोदी
  • देश भर में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की धूम, राष्ट्रपति कोविंद और पीएम मोदी ने दी शुभकामनाएं
  • 1st Test Day-2: भारत की पहली पारी 297 रनों पर सिमटी, रवींद्र जडेजा ने बनाए 58 रन

आखिर क्या हुआ था सुषमा के साथ,कैसे हुई उनकी मौत ?

नई दिल्ली : देश की आन-बान-शान में चार चांद लगाने वाली भारत की बेटी सुषमा स्वराज अब हमारे बीच नही रही, अपनी यादे छोड़ दुनिया को अलविदा कह गई। भारतीय इतिहास की ये काली रात मंगलवार 6 अगस्त 2019 की थी। वैसे भारत के इतिहास में अगस्त का महीना कांत्रिकारी माह है। लेकिन 6 अगस्त की रात पूरा हिंदुस्तान सदमें में डूब गया, क्योंकि देश की पूर्व विदेश मंत्री सुष्मा स्वराज अपनी सांसों की पोटली छोड़ दुनिया को अलविदा कह गई।

पूर्व विदेश मंत्री और बीजेपी नेता सुषमा स्वराज ने मंगलवार को अंतिम सांस ली। बताया जाता वो घर में अचानक गिर गईं थी, जिसके बाद उन्हें तुरंत AIIMS में भर्ती कराया गया था, लेकिन अस्पताल ले जाने से पहले ही उनका निधन हो गया था। सुषमा स्वराज पिछली मोदी सरकार में कैबिनेट मंत्री थीं, लेकिन इस बार उन्होंने लोकसभा चुनाव नहीं लड़ने का फैसला किया था।

67 साल की सुष्मा स्वराज सिर्फ एक महिला नहीं, महिलाओं के लिए उदाहरण थीं। वह बेटी नहीं देश की बेटी थीं। सैम्य व्यक्तित्व की धनी दिवंगत सुष्मा स्वराज एक दिग्गज नेता और प्रखर वक्कता थी, जिन्होंने देश से लेकर दुनिया तक भारत का गौरवगान किया। संयुक्त राष्ट्र में भारत का पक्ष रखना हो या अंतराष्ट्रीय स्तर पर पाकिस्तान की मटियामेट करना, सुषमा का व्यक्तित्व कभी भूलाया नहीं जा सकता।

सड़क से लेकर संसद तक, देश लेकर दुनिया तक अपने अमिट वयक्तित्व की छाप छोड़ चुकी सुषमा स्वाराज की दरियादिली विश्व विख्यात है। उनकी शालिनता का अंदाजा ऐसा लगा सकते हैं, कि सियासत और सीमा पर तनाव के बाद भी उन्होंने पाकिस्तानी नागरिक को भारत में इलाज के लिए हर जरूर सुविधा मुहैया कराई। विदेश मंत्री रहते हुए सुषमा ने देश-विदेश के कई जरूरतमंद लोगों को नीजी स्तर पर मदद मुहैया कराई।

loading...