Breaking News
  • मंदी से निपटने के लिए सरकार ने किए बड़े ऐलान, ऑटो सेक्टर को होगा उत्थान
  • तीन देशों की यात्रा के दूसरे चरण में यूएई की राजधानी आबू धाबी पहुंचे मोदी
  • देश भर में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की धूम, राष्ट्रपति कोविंद और पीएम मोदी ने दी शुभकामनाएं
  • 1st Test Day-2: भारत की पहली पारी 297 रनों पर सिमटी, रवींद्र जडेजा ने बनाए 58 रन

पाकिस्तान के खिलाफ बालाकोट से भी बड़ी एक्शन की तैयारी में भारत

नोएडा : मौका था आजादी का, जमकर जश्न होना चाहिए था।  लेकिन नंगा नहायेगा क्या और नीचोड़ेगा क्या। पाकिस्तान की हालत को धोवी के उस कुत्ते की तरह हो गई है जो न घर का रहा न घाट का, या फिर यू कहे की आगे नाथ न पीछे पगहा जैसे धूल में लोटे गदहा। वो है आज का पाकिस्तान...

दरअसल, जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा दिलाले वाली धार 370 खत्म करने और सूबे को दो केंद्रशासित प्रदेशों के तौर पर पुनर्गठन के बाद से ही पाकिस्तान भारत के इस आंतरिक मामले पर दुनिया भर में रोना रो रहा है। लेकिन आतंकी देश के तौर पर अपना पहचान कायम कर चुके पाकिस्तान को कोई सुनने को तैयार नही, तो मदद की बात ही बेईमानी है।

लेकिन अपनी पैंतरेबाजियां नाकाम होता देख पाकिस्तान अब युद्ध का हौवा खड़ा करना शुरू कर दिया है। पाकिस्तान के स्वतंत्रता दिवस के मौके पर गुलाम कश्मीर  की विधानसभा में पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा कि अगर भारत और पाकिस्तान में जंग छिड़ती है तो विश्व समुदाय जिम्मेदार होगा। ऐसा इसलिए क्योंकि धारा 370 पर पाकिस्तान को कही से कोई मदद नहीं मिली है, जबकि दुनिया का चहेता भारत इस मसले पर भी आंखों का तारा बना है।

इमरान की बातों से यह साफ होता है कि उन्हें भारत का डर सता रहा है। लेकिन जो सुधर जाए वो पाकिस्तान कैसा? गौर कीजिए कि एक तरफ पाकिस्तान खौफजदा है, उसे डर सता रहा है कि भारत उसके अवैध कब्जे वाले कश्मीर में बालाकोट से भी बड़ा कार्रवाई कर सकता है। लेकिन दूसरी तरफ वह भारत को युद्ध की भी धमकी दे रहा है। इमरान ने जहां यह कहा कि पाकिस्तान अपने ऊपर किसी भी कार्रवाई का उससे भी ज्यादा ताकत से जवाब देगा।

वहीं, पाकिस्तानी सेना प्रमुख जनरल बाजवा ने कहा कि कश्मीर के लिए पाकिस्तानी सेना किसी भी हद तक जा सकती है। क्योंकि  पाकिस्तान को अब गुलाम कश्मीर के हाथ से जाने का डर सता रहा है। जहां पाकिस्तानी सेना जुल्म के सारे पैमाने पार करने पर अमादा दिख रही है। लेकिन इमरान को अपनी फैज को ज्ञान देने की जगह भारत को ईंट का जवाब पत्थर से देने की बात करते हैं।

जिस धारा 370 के खात्मे को भारत सरकार कश्मीर की आजादी बताती है उसे इमरान खान पीएम नरेंद्र मोदी की सामरिक भूल बताते हैं। खान कहते है, नरेंद्र मोदी ने जो कार्ड खेला है यह आरएसएस की विचारधारा है। जो कश्मीर में कदम उठाया गया हम सबको खौफ है कि जब कर्फ्यू उठेगा तो क्या चीजें पता चलेंगी। क्या जरूरत थी इतना ज्यादा पहले फौज भेजो फिर पर्यटकों को निकाल दो। यह क्या करने जा रहे हैं। मैं समझता हूं कि यह नरेंद्र मोदी ने स्ट्रैटिजिक ब्लंडर खेला है। अपना आखिरी कार्ड खेला है। यह बीजेपी और मोदी को बहुत भारी पड़ेगा।

इमरान के भड़काउ जुबान यही नहीं थमते वह कहते हैं, हमें इंफर्मेशन मिली है, सिक्यॉरिटी मीटिंग हुई, पाकिस्तानी फौज को पूरी तरह पता है कि भारत ने प्लान बनाया हुआ है कि पीओके में ऐक्शन लेगा। जिस तरह पुलवामा के बाद भारत बालाकोट में ऐक्शन लिया था, उससे भी ज्यादा खौफनाक प्रोग्राम बनाया हुआ है। साथ ही खान यह भी कहते हैं कि मैं नरेंद्र मोदी को पैगाम देता हूं कि आप ऐक्शन लें, आपकी ईंट का जवाब पत्थर से दिया जाएगा। पाकिस्तानी फौज तैयार है। सारी कौम तैयार है। हम आपसे मिलकर मुकाबला करेंगे, आखिर तक जाएंगे।

loading...