Breaking News
  • कश्मीर घाटी, लद्दाख में कड़ाके की शीतलहर जारी
  • पेट्रोल-डीजल के दाम में बढ़ोतरी, कच्चे तेल में नरमी
  • लोकसभा में सत्ता पक्ष, विपक्ष का हंगामा
  • पर्थ टेस्ट : 146 रन से हारा भारत, आस्ट्रेलिया ने की सीरीज में 1-1 से बराबरी
  • चक्रवाती तूफान Pethai Cyclone आज आंध्र प्रदेश के तट से टकराएगा

चीन-पाकिस्तान की उड़ी नींद: इस मामले में दुनिया को पछाड़ नम्बर-1 बना भारत

नई दिल्ली: भारत दुनिया का सबसे बड़ा हथियार आयात करने वाला देश बन गया है। जारी एक रिपोर्ट में बताया गया है कि भारत ने साल 2012 से 2017 के बीच दुनियाभर में खरीदे गये हथियारों में खुद की 12 प्रतिशत हिस्सेदारी रही है। ऐसे में भारत के दो पडोसी मुल्कों की टेंशन बढ़ गयी है।

बतादें कि जिस देश के पडोसी पाकिस्तान-चीन जैसे पीठ में छुरा घोंपने वाले देश हों वह देश भला कैसे खुद को सुरक्षित महसूस कर सकता है। ऐसे में उस देश को अपनी सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए बड़े पैमाने पर हथियारों का जखीरा रखना ही होगा। ऐसा ही कुछ भारत के साथ है। पिछले कुछ सालों में भारत का चीन और पाकिस्तान के साथ मतभेद बढ़ा है। ऐसे में भारत ने 2013 से 2017 के बीच सबसे ज्यादा हथियारों का आयात किया है। साथ ही नया रिकॉर्ड भी बना दिया हैं।

छत्तीसगढ़: सुकमा में बड़ा नक्सल हमला, 8 जवान शहीद

दुनियाभर से आयात किए गए हथियारों में 12 प्रतिशत की हिस्‍सेदारी के साथ भारत पहले नम्बर पर पहुँच गया है। मीडिया में जारी एक ग्लोबल थिंक टैंक स्टाकहॉम इंटरनेशनल पीस रिसर्च इंस्टीट्यूट की रपट के अनुसार भारत द्वारा हथियार आयात करने की दिशा में साल 2008 से 2012 और 2013 से 2017 के बीच 24 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है।

तो बीजेपी ने भी मान लिया कि ‘रम में राम और देशी में हनुमान’ बसे हैं!

इस रिपोर्ट के अनुसार, 2013-2017 के बीच भारत ने सबसे ज्‍यादा 62 फीसदी रूस और उसके बाद अमेरिका से हथियार आयत किये हैं। हालाँकि भारत लम्बे समय से हथियारों को बनाने के स्वदेशी तकनिकी का इस्तेमाल करने पर जोर दे रहा है। इसको लेकर सोमवार को रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि देश के रक्षा क्षेत्र के सार्वजनिक उपक्रमों और आयुध कारखानों में काफी संभावनाएं हैं, लेकिन इन उपक्रमों को पुनर्जीवित करने और उन्हें अधिक गतिशील बनाने की जरूरत है। भारत धीरे धीरे इस दिशा में आगे बढ़ रहा है। ऐसे मिसाइलों को स्वदेशी तकनीनी से विकसित किया गया है। जिन्हें भारतीय सेना में शामिल भी कर लिया गया है।    

यह भी देखें-

 

loading...