Breaking News
  • UPElection: 5वें चरण के लिए चुनाव-प्रचार का आज आखिरी दिन
  • जम्मू कश्मीर: शादियों में फिजूलखर्ची पर सरकार ने पेश किया लाई बिल- मेहमानों की संख्या के साथ कई नियम
  • MCD चुनाव के लिए आप पार्टी ने किया 109 उम्मीदवारों का ऐलान
  • इंफाल: पीएम मोदी की चुनावी सभा- मणिपुर में कांग्रेस रहने को अधिकारी नहीं
  • पूर्वी भारत के विकास के बिना भारत का विकास अधूरा- मोदी
  • कांग्रेस जो काम 15 साल में नहीं कर पाई, हम 15 महीनों में करेंग- मोदी
  • पुणे टेस्ट: 333 रन से हारी टीम इंडिया- दूसरी पारी में भी 107 पर ऑलआउट

भारत बंद नहीं कर रहे, नोटबंदी के खिलाफ प्रदर्शन है !


नई दिल्ली: मोदी सरकार द्वार जारी नोटबंदी के फैसले के खिलाफ आज सोमवार को सरकार विरोधी पार्टियों ने भारत बंद का ऐलान किया है। कांग्रेस, बसपा, टीएमसी, आप पार्टी के अलाव अन्य विपक्षी पार्टियों ने सरकार से अपने फैसले वापस लेने की मांग कर रही है, हालांकि सरकार ने सफा कर दिया है, वह अपने फैसले से पलट नहीं सकती।

विपक्षी पार्टियों को उस वक्त एक तगड़ा झटका लगा जब बिहार के सीएम नीतीश कुमार की पार्टी जदयू ने भारत बंद से किनारा कर लिया। गौर हो कि सरकार द्वारा 500 और 1000 के पुराने नोट बंद किए जाने के बाद से नीतीश कुमार इसके समर्थन में हैं। हालांकि उन्होंने सरकार की तैयारियों पर सवाल जरूर खड़े किए है।

जानकारी के अनुसार विपक्ष के भरत बंद जन आक्रोश के तहत कुछ लोगों ने बिहार में ट्रेन रोक कर सरकार के नोटबंदी के फैसले का विरोध किया है। खबरों के अनुसार भारत बंद के दौरान बैं‍क, शादियां, अस्‍पताल, दूध और अखबार विक्रेताओं को छूट दी जाएगी।

आपको बता दें कि नोटबंदी के फैसले पर विपक्ष सरकार को सदन से सड़क तक घेरने की रणनीति के तहत काम कर रही है। इस क्रम में संसद शीतकालीन सत्र में अब तक सिर्फ और सिर्फ हंगामा ही हुआ है। इसके बाद अब भारत बंद का ऐलान।

इन सभी मामलों को लेकर पीएम मोदी ने भी विपक्ष को निशाने पर लेते हुए कहा कि जब सरकार भ्रष्टाचार के खिलाफ कोई कार्यवाई करती है, तो विपक्ष भारत बंद का ऐलान करती है। जिसके जवाब में कांग्रेस पार्टी का कहना है कि भारत बंद नहीं कर रहे है, नोटबंदी का विरोध किया जा रहा है।