Breaking News
  • एशियाई खेलः बजरंग पुनिया जीता पहला गोल्ड मेडल, किया दिवंगत अजट जी को समर्पित
  • एशियाई खेलः 10 मी. एयर राइफल में दीपक कुमार ने जीता रजत पदक
  • कर्नाटक के कई तटीय जिले बाढ़ की चपेट में, बचाव एवं राहत अभियान जारी

जवानों की शहादत के बीच भारत-पाकिस्तान ने किया एक और बड़ा समौता, फिर पीठ में खंजर घोपेगा PAK

जम्मू: जम्मू एवं कश्मीर भारत-पाकिस्तान के बीच वैसे तो संघर्ष विराम समझौता काफी समय पहले ही हुआ है, जिसके तहत अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर शांति बनाए रखने की जवाबदेही दोनों देश की सेना की होती है। हालांकि पाकिस्तानी सेना इस संघर्ष विराम समझौते तो कई बार तार-तार कर चुकी है। सीमा पर पाकिस्तान सेना आय दिन अकार गोलीबारी करती रही है, जिसमें अक्सर जवानों की शहादत की खबर आती रही है।

file

भारत-पाकिस्तान के बीच सीमा शांति बनाए रखने के लिए संघर्ष विराम समझौता के अलावा भी दोनों देशों की सेना के बीच कई बार सहमति बनी है, लेकिन इसके बाद भी पाकिस्तानी सेना अपने हरकतों से बाज नहीं आती, कभी सीमा पर आतंकियों की घुसपैठ कराने के इरादे से कभी बेवजह भारतीय सीमा और सेना पर गोलीबारी करती रही है, जिसके जवाब में शांति प्रिय देश भारत को भी हिंसा के रास्ते पर चलना पड़ता है।

बेंगलुरू में भारत-अफगानिस्तान के बीच ऐतिहासिक मैच शुरू, टीम इंडिया से बाहर हुआ यह दिग्गज खिलाड़ी

हालांकि सीमा पर शांति बनाए रखने के लिए अब एक बार फिर से बुधवार शाम सीमा सुरक्षाबल यानी बीएसएफ और पाकिस्तान रेंजर्स के बीच फ्लैग मीटिंग हुई। जम्मू के ओक्ट्रोई चौकी पर हुई इस बैठक में बीएसएफ की ओर से फ्रंटियर मुख्यालय के उपमहानिरीक्षक पी.एस धीमान के नेतृत्व में आठ सदस्यीय टीम और ब्रिगेडियर मुहम्मद अमजद हुसैन के नेतृत्व में पाकिस्तान रेंजर्स की छह सदस्यीय टीम शामिल हुई।

आखिर कब तक: जम्मू कश्मीर में दो दिन में पांच जवान शहीद

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, बैठक के दौरान अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर युद्धविराम उल्लंघन की घटनाओं पर गहन चर्चा की गई और दोनों पक्ष एक बार फिर से सीमा पर तनाव कम करने के लिए संपर्क बनाए रखने को लेकर सहमत हुए है। बता दें कि यह बैठक ऐसे समय में हुई है जब बुधवार को ही रामगढ़ सेक्टर में पाकिस्तान की ओर से संघर्षविराम उल्लंघन करते हुए की गई भारी गोलबारी में बीएसएफ के चार जवान शहीद हो गए है।

दिल्ली-एनसीआर पर फिर मंडराया बड़ा खतरा: राज्य-केंद्र सरकार दोनों नाकाम

loading...