Breaking News
  • मालेगांव: 7 फरवरी को तय हो सकते हैं साध्वी प्रज्ञा, पुरोहित के खिलाफ आरोप
  • इराक की राजधानी बगदाद में एक साथ हुए दो आत्‍मघाती बम हमलों में 38 लोगों की मौत
  • अफगानिस्तान से बर्मा तक, तिब्बत से श्रीलंका तक सबका डीएनए एक: भागवत
  • काबुल: भारतीय दूतावास में गिरा रॉकेट, किसी के हताहत होने की कोई ख़बर नहीं

75वीं वर्षगांठ पर साकार हुआ स्वतंत्रता सेनानियों का सपना- संसद से प्रस्ताव पारित

नई दिल्ली: केंद्र की मोदी सरकार ने आज भारत छोड़ो आंदोलन की 75वीं वर्षगांठ के मौके पर संसद में विशेष सत्र बुलाई, जिसमें एक ऐसा प्रस्ताव पास किया गया जिसका इंतजार आजादी के बाद से सभी लोगों का था और खास कर स्वतंत्रता सेनानियों का यह एक सपना था।

दरअसल संसद में विशेष सत्र के दौरान लोकसभा में साल 2022 तक भारत को समावेशी और समृद्ध भारत बनाने का प्रस्ताव पारित किया गया है। इसकी जानकारी देते हुए लोसकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने बताया कि भारत छोड़ो आंदोलन के 75वें साल हन एक स्वच्छ, समृद्ध और शक्तिशाली भारत बनाने का संकल्प लेते हैं।

उन्होंने बताया कि नया भारत भ्रष्टाचार मुक्त हो, अच्छा प्रशासन हो, विज्ञान और प्रौद्योगिकी में उन्नत स्थान हो और समाज के सभी वर्गों के विकास के लिए प्रतिबद्ध होगा। महाजन ने कहा कि हम सभी एक ऐसा देश बनाने को लेकर प्रतिबद्ध हैं, जहां भाईचारा और राष्ट्रवाद हो और वह लोकतंत्र के मूल्यों की रक्षा को लेकर प्रतिबद्ध हो।

आपको बता दें कि इससे पहले भारत छोड़ो आंदोलन की 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर संसद मे सदस्यों ने अपनी बात रखे और इस गौरव पल को याद किया। इस दौरान पीएम मोदी ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को याद करते हुए उनके सपने को साकार करने की बात की तो कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने बिना लिए बीजेपी की सहयोगी संगठन आरएसएस पर तिखा हमला भी किया।

loading...