Breaking News
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मध्य प्रदेश के एक दिवसीय यात्रा पर
  • अमेरिका का दक्षिण कोरिया के साथ संयुक्त सैन्याभ्यास रद्द
  • जम्मू-कश्मीर: सेना ने 22 आतंकियों की हिट लिस्ट तैयार की
  • JK: PDP के साथ गठबंधन टूटने के बाद श्यामा प्रसाद मुखर्जी की पुण्यतिथि पर BJP की रैली

सांप्रदायिक हिंसा में पहले नंबर 1 पर उत्तर प्रदेश- जाने अन्य राज्यों का हाल...

नई दिल्ली: वैसे तो दुनिया भर में भारत देश की पहचान धर्मनिरपेक्ष देश के तौर पर की जाती है, लेकिन इससे उटर एक और हकीकत है कि, भरत के अलग-अलग राज्यों में हिंसा और सांप्रदायिक हिंसा के कई मामले सामने आ चुके हैं। अगर इन मामलों को आकड़े के हिसाब से समझा जाए तो यह बेहद ही भायावह दिखता है।

दरअसल, गृह मंत्रालय ने सांप्रदायिक हिंसा के आंकड़े जारी किए हैं, जिसके हवाले से बताया गया कि साल 2017 में सांप्रदायिक हिंसा के मामले में उत्तर प्रदेश भारत के अन्य सभी राज्यों के मुकाबले सबसे आगे यानी नंबर एक पर है। इस समय अवधि में प्रदेश में 195 हिंसक घटनाएं हुईं, जिनमे 44 लोग मारे गए जबकि 542 लोग घायल भी हुए।

योगी ने दिया नया रोजगार- किया गारबेज एटीएम का उद्घाटन, कूड़े से कमा सकते हैं पैसा...

बता दें कि 6 फरवरी को लोकसभा में एक प्रश्न के जवाब में गृह राज्य मंत्री हंसराज अहीर ने साल 2017 में देश भर में हुई सांप्रदायिक हिंसा की घटनाओं के आकङे को पेश किया है। आकड़ो के अनुसार इस साल देश भर में कुल 822 सांप्रदायिक हिंसा की घटनाएं हुईं, जिनमें 111 लोग मारे गए जबकि 2384 लोग घायल हुए।

सांप्रदायिक हिंसा के मामले में राज्यों का स्थान

दूसरे नंबर पर कर्नाटक रहा- जहां 100 सांप्रदायिक घटनाएं हुईं, जिनमें नौ लोग मारे गए और 229 घायल हुए।

राजस्थान में 91 घटनाएं हुईं, जिनमें 12 लोग मारे गए और 175 घायल हुए

बिहार में 85 घटनाओं में 3 लोगों की मौत और 321 घायल हुए

मध्य प्रदेश में 60 घटनाओं में 9 लोग मारे गए जबकि 191 घायल हुए

पश्चिम बंगाल में 58 घटनाएं हुईं, जिनमें  नौ लोग मारे गए और 230 घायल हुए

गुजरात में 50 घटनाओं में आठ लोग मारे गए और 125 घायल हुए

बॉलीवुड सुपर स्टार जितेंद्र पर बहन ने लगाया ‘रेप’ का आरोप!

VIDEO: वोटिंग से पहले त्रिपुरा में PM मोदी की दहाड़- बताया HIRA का नया मतलब...

loading...