Breaking News
  • राजकीय सम्मान के साथ मनोहर पर्रिकर का अंतिम संस्कार
  • प्रयागराज से वाराणसी तक बोट यात्रा कर रही हैं प्रियंका गांधी
  • बोट यात्रा से पहले प्रियंका ने किया गंगा पूजन, देश का उत्थान और शांति मांगी
  • भारतीय वायु सेना में शामिल हुआ बहुउद्देशीय हेलीकॉप्टर Chinook
  • पत्नी के साथ विदेश यात्रा पर रवाना हुए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद- क्रोएशिया, बोलिविया और चिली की यात्रा पर
  • पाकिस्तान: सिंध में दो नाबालिग हिंदू बहनें अगवा, सुषमा स्वराज ने मांगी रिपोर्ट
  • जनवरी में 9 लाख लोगों को मिला रोजगार, EPFO की रिपोर्ट में खुलासा

जल्द शुरू होगी अयोध्या जमीन मामले पर सुनवाई, बस कुछ पल में

नई दिल्ली : देश के सबसे बड़े मुद्दे अयोध्या जमीन मामले पर आज सुनवाई शुरू होनी है। जिस पर सभी देशवासियों की नज़र टीकी हुई है। यह सुनवाई बस कुछ पल दूर यानी 11 बजे से होने वाली हैं। इस मामले की सुनवाई सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस रंजन गोगोई के नेतृत्व में तीन जजों की नई बेंच की करेगी। इस बेंच में चीफ जस्टिस रंजन गोगोई के अलावा जस्टिस कौल और जस्टिस केएम जोसेफ शामिल हैं। जस्टिस केएम जोसेफ वे जज हैं जिन्होंने रंजन गोगोई के साथ पूर्व चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा पर अपनी मनमानी करने का आरोप लगाए थे। आपको बताते दें कि इससे पहले इस मामले की सुनवाई पूर्व चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा, अशोक भूषण और अब्दुल नजीर की बेंच कर रही थी।

जिस जिले में सिपाही है पिता, वहां बेटा बना SP

बता दें कि देश में राम मंदिर निर्माण के पर चल रही बहस के बीच आज से सुप्रीम कोर्ट में इस मुद्दे पर अहम सुनवाई शुरू होनी है। राम मंदिर-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद पर अब फाइनल काउंटडाउन आज से शुरू हो रहा है, जिसपर पूरे देश की नजर है। आज से शुरू हो रही सुनवाई विवादित भूमि को तीन भागों में बांटने वाले 2010 के इलाहाबाद हाई कोर्ट के फैसले के खिलाफ दायर याचिकाओं पर है।

टेक ऑफ के 13 मिनट बाद समुद्र में क्रैश हुआ प्लेन, 188 यात्री थे सवार

इससे पहले 27 सितंबर 2018 को कोर्ट 'मस्जिद इस्लाम का अनिवार्य अंग नहीं' वाले फैसले के खिलाफ याचिका पर पुनर्विचार से इनकार कर दिया था और कहा था कि अयोध्या में राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद में दीवानी वाद का निर्णय साक्ष्यों के आधार पर होगा और पूर्व का फैसला इस मामले में प्रासंगिक नहीं है।

बड़ी खबर : 4 पाकिस्तानी स्नाइपर ने किया भारतीय सीमा में प्रवेश, हाई अलर्ट जारी

loading...