Breaking News
  • अयोध्या मामले में 2 अगस्त से खुली कोर्ट में सुनवाई, 31 जुलाई तक मध्यस्थता की प्रक्रिया
  • महाराष्ट्र में गोरखपुर अंत्योदय एक्सप्रेस पटरी से उतरी
  • अमरनाथ यात्रा पर आतंकी कर सकते हैं आतंकी हमला : सूत्र
  • कर्नाटक में कुमारस्वामी सरकार का शक्ति परीक्षण, 2 बसों में विधानसभा पहुंचे BJP विधायक

महज 3 मिनट के सुनवाई में ही 3 महीने के लिए टला रामजन्भूमि की सुनवाई

नई दिल्ली : पूरा देश सुप्रीम कोर्ट के तरफ एकटक देख रहा था कि आज कुछ परिणाम आएगा। लेकिन परिणाम फिर वहीं यह केस अगले 3 महीने के लिए टाल दिया गया। आपको बता दें कि आज यह सुनवाई अयोध्या में राम जन्मभूमि- बाबरी मस्जिद पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई और महज 3 मिनट में ही इसे 3 माह के लिए डाल दिया गया। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अगुवाई वाली बेंच ने अब इस मामले के लिए जनवरी, 2019 की तारीख मुकर्रर की है। यानी कि अब ये मामला करीब 3 महीने बाद ही कोर्ट में उठेगा।

सेना प्रमुख बिपिन रावत ने दी पाकिस्तान को सख्त चेतावनी, घुसपैठ रोके वरना...

आज की सुनवाई 2010 इलाहाबाद हाई कोर्ट के फैसले के खिलाफ दायर याचिकाओं पर होनी थी। बता दें कि इलाहाबाद हाईकोर्ट ने विवादित भूमि को तीन भागों में बांटने का आदेश दिया था। सुनवाई के दौरान चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने कहा कि ये मामला अर्जेंट सुनवाई के तहत नहीं सुना जा सकता है। सोमवार की सुनवाई चीफ जस्टिस रंजन गोगोई समेत जस्टिस संजय किशन कौल और जस्टिस के. एम जोसफ की पीठ ने की।

बड़ी खबर : 4 पाकिस्तानी स्नाइपर ने किया भारतीय सीमा में प्रवेश, हाई अलर्ट जारी

इससे पहले 27 सितंबर 2018 को कोर्ट 'मस्जिद इस्लाम का अनिवार्य अंग नहीं' वाले फैसले के खिलाफ याचिका पर पुनर्विचार से इनकार कर दिया था और कहा था कि अयोध्या में राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद में दीवानी वाद का निर्णय साक्ष्यों के आधार पर होगा और पूर्व का फैसला इस मामले में प्रासंगिक नहीं है। 27 सितंबर को ही कोर्ट ने 29 अक्टूबर की तारीख तय की थी।

बीजेपी के इस मंत्री का हुआ जूते से स्वागत, नाम जानकर आप भी हो जाएंगे हैरान

loading...