Breaking News
  • महिला विश्व कप: शुरुआती मुकाबले में भारतीय टीम ने इंग्लैंड को 35 रनों से हराया
  • राष्ट्रपति चुनाव में समर्थन के लिए देशभर के दौरे पर निकलेंगे एनडीए उम्मीदवार रामनाथ कोविंद
  • कतर में भारतीयों की सुरक्षा के लिये हरसंभव प्रयास करेगी सरकार- विदेश मंत्री
  • #HWL2017: भारत ने पाकिस्तान को 6-1 से हराया
  • तीन देशों की यात्रा के दूसरे चरण में अमेरिका की राजधानी वाशिंगटन डीसी पहुंचे पीएम

सरकारी कर्मचारियों के वेतन पर नोटबंदी का असर, इस वीकेंड बैंक भी बंद!


नई दिल्ली: देश भर में जारी नोटबंदी के बाद आज 18 वें दिन शनिवार को और फिर रविवार को, दो दिन बैंकों की बंदी रहेगी, ऐसे में ATM के में ज्यादा भीड़ होने के साथ-साथ पैसे मिलने के चांस और भी कम हो जाते है।

ऐसे में देखने वाली बात यह है कि सरकार अपने कर्मचारियों को वेतन कैसे देती है। गौर हो कि सरकारी कर्मचारियों का वेतन भी बैंक द्वार आता है, और बैंक से आप अप अपने खाते से सरकार के निर्देश के अनुसार ही पैसे निकाल सकेंगे।

हालांकि सरकार का दावा है कि आधे से ज्यादा ATM मशीनों को नए नोट देने लायक बना दिया गया है। लेकिन देश के कई हिस्सों में अब भी ATM के आगे ‘नो कैश’ लिखे मिल रहे तो किसी दूसरे में ऐसी ही कोई और समस्या है।

नोटबंदी के बाद इस दो दिन के वीकेंड पर आई बैंक बंदी का सबसे ज्यादा असर ग्रामीण इलाके में देखने को मिले, जबकि दिल्ली, मुंबई  जैसे बड़े शहरों में ज्यादातर लोग अब ऑनलाइन हो चुके है।

खबरों के अनुसार RBI ने सरकारी कर्मचारियों को वेतन देने की रणनीति तैयार करने के लिए डिप्टी गवर्नर एस एस मुंद्रा के नेतृत्व में एक ‘टीम पे-डे’  का गठन किया है। यह टीम कर्मचारियों को वेतने देने की रणनीति तैयार करने में लगा है।

इस क्रम में RBI सबसे पहले ATM में कैश की किल्लत दूर करने की तैयारी में है, और इसके लिए ATM में जैसे ही कैश खत्म हो उसमें फिर से तुरंत कैश भर दिया जाए, ऐसी व्यवस्था की योजना है। गौर हो यदी सरकार की यह योजना कारगर रही तो 50 दिन के अंदर ही नोटबंदी समस्या खत्म हो सकती है।

जानकारी के अनुसार 30 नवंबर 2016 तक देश के 90% ATM को नए नोट देने लायक बना लिया जाएगा। खबरों के अनुसार 500 और 2000 के नए नोटों की नई खेप RBI से निकल चुकी है, हालांकि इसका असर आम जीवन में 5-7 दिन में देखने को मिल सकता है।

loading...