Breaking News
  • मंदी से निपटने के लिए सरकार ने किए बड़े ऐलान, ऑटो सेक्टर को होगा उत्थान
  • तीन देशों की यात्रा के दूसरे चरण में यूएई की राजधानी आबू धाबी पहुंचे मोदी
  • देश भर में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की धूम, राष्ट्रपति कोविंद और पीएम मोदी ने दी शुभकामनाएं
  • 1st Test Day-2: भारत की पहली पारी 297 रनों पर सिमटी, रवींद्र जडेजा ने बनाए 58 रन

देश के कई हिस्सों में बाढ़ का कहर, अब तक 185 लोगों की मौत

नोएडा : चलो दिलदार चलों,  चांद के पार चलों...सुनने में कितना अच्छा लगता है...देख ले तो सीना गर्व से चौड़ा... ये कामयाबी देश के निष्ठावान वैज्ञानिकों की है, जिन्होंने आखिरकार मिशन मून पर सफलता हासिल कर ली, सफलता की खबर आते ही पूरा देश जश्न के माहौल में डूब गया, लेकिन चांदनी रात के हसीन सपनों से बाहर निकलिए और देखिए, चांद पर फतह करने के इस जामानें में धरती पर जीवन कहां है...

लगातार हो रही भारी बारिश के कारण देश के कई हिस्सों में स्थिति भयावह हो गई है। बिहार और असम में तो मानों सरकारी सिस्टम भी पानी की धार में प्रवाहित हो रही है, लेकिन सरकार अपनी खोखली सिस्टम का गुणगान करते नहीं थकती। वैसे तो बाढ़ के चपेट में देश के सात राज्य है, लेकिन सबसे अधिक बर्बादी बिहार की हुई है।

बिहार के 12 जिलों में आई बाढ़ से अब तक 104 लोगों की मौत हो चुकी है। सूबे में 76 लाख 85 हजार से अधिक की आबादी प्रभावित हुई है। इन 12 जिलों में कुल 81 राहत शिविर चलाए जा रहे हैं, जहां 76,400 लोग शरण लिए हुए हैं। इनके भोजन की व्यवस्था के लिए 712 सामुदायिक रसोई चलाई जा रही है, जबकि बाढ़ प्रभावित इलाके में राहत एवं बचाव कार्य के लिए एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की कुल 26 टीमें लगाई गई हैं और 125 मोटरबोट का इस्तेमाल किया जा रहा है।

तो इधर असम में भी बाढ़ की चपेट में आकर दो और लोगों की मौत के बाद अब मृतकों की संख्या 66 हो गई है। राज्य में बाढ़ के हालात जस के तस हैं और कुल 33 में से 18 जिलों में 30.55 लाख लोग प्रभावित हुए हैं। बाढ़ के कारण उमस के काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान में 16 गेंडों समेत 187 जानवरों की भी मौत हो चुकी है। असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की मानें तो प्रशासन ने 757 राहत शिविर और राहत वितरण केन्द्र बनाए हैं जिनमें कुल 96,890 विस्थापित लोग रह रहे हैं।

जबकि यूपी में भी स्थिति बद से बद्तर होती जा रही है, पूर्वांचल के कई जिले बाढ़ की चपेट में हैं। लगातार भारी बारिश और बाढ़ के कारण यहां करीब 15 लोगों की जान चली गई। मौसम विभाग ने मंगलवार को पूर्वी यूपी के कुछ हिस्सों में भारी बारिश की आशंका जताई है। इन तीन राज्यों के अलावा झारखंड, मध्य प्रदेश, कर्नाटक और पूर्वोत्तर व दक्षिण भारतीय राज्यों पर भी बाढ़ का खतरा मंडा रहा है।

loading...