Breaking News
  • नंदा देवी शिखर के पास ITBP को 7 पर्वतारोहियों के शव मिले
  • हार के बाद अखिलेश-मुलायम पर भड़की मायावती
  • BMC ने CM देवेंद्र फडणवीस के बंगले को घोषित किया डिफॉल्टर
  • संसद के दोनों सदनों में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव आज
  • बांग्लादेश में ट्रेन हादसे में 4 की मौत, 150 से ज्यादा घायल

नये साल पर सरकार की ओर से सभी देशवासियों को तोहफा, वित्त मंत्री ने किया ऐलान

नई दिल्ली: केंद्र की सत्ता पर काबिज नरेंद्र मोदी सरकार ने नये साल पर देशवासियों को बड़ा तोहता दिया है। हालांकि जनता के लिए सरकार के यह तोहफा सरप्राइज नहीं है क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सरकार के इस तोहफे का संकेत पहले ही दे दिए थे। जिसके बाद आज राजधानी में हुई बैठक के दौरान वित्त मंत्री अरुण जेटली ने अंतिम मुहर लगा दी।

दरअसलस शनिवार को नई दिल्ली में वस्तु एवं सेवा करयानी जीएसटी परिषद की 31वीं बैठक हुई है। इस बैठक में हुए फैसले को अगर कम शब्दों में समझे तो आम लोगों की सुविधाओं ख्याल में रखते हुए टीवी स्क्रीन और सिनेमा टिकट के साथ-साथ करीब 23 वस्तुओं पर जीएसटी की दरों में कटैती की घोषणा की है।

पूर्ण शराबबंदी में नाकाम बिहार सरकार ने की एक और बंदी, कल से लगेगा जुर…

हालांकि, देशवासियों को पेट्रोल और सीमेंट की दरों पर से जीएसटी की कटौती के लिए अभी इंतजार करना होगा। आपोक हता दें कि जीएसटी परिषद का यह नया फैसला नये साल के पहले महीने (जनवरी 2019) से लागू हो रहा है। बैठक के बाद वित्त मंत्री अरूण जेटली कहा कि, अलग-अलग वस्तुओं पर जीएसटी की दरों में की गई कटौती के कारण सालाना राजस्व में 5,500 करोड़ रुपये का असर होगा।

आईपीएल के इस हीरो ने कर ली प्रेमिका के साथ शादी

उन्होंने कहा कि बैठक के दौरान जीएसटी की 28 फीसदी की सबसे ऊंची टैक्स स्लैब में आने वाली वस्तुओं में से सात को निम्न टैक्स स्लैब में डालने पर सहमति बनी है जबकि 28 फीसदी के स्लैब में अब केवल 28 वस्तुएं ही बची हैं। वित्त मंत्री ने कहा कि, जीएसटी की दरों को तर्कसंगत बनाना एक सतत प्रक्रिया है। अब 28 फीसदी वाले टैक्स स्लैब में वाहनों के कल-पुर्जों और सीमेंट के अलावा विलासिता से जुड़ी वस्तुएं ही बची हैं।

इनसाइड स्टोरी: विवादों से भरा है ‘आप’ की अलका लंबा का बैकग्राउंड!

खबरों के अनुसार सरकार के इस फैसले के बाद एसी, टीवी, वॉशिंग मशीन की कीमतो में कटौती होगी जबकि, बीड़ी, सिगरेट,तंबाकू उत्पाद, पान मसाला, धूम्रपान पाइप, वाहन, विमान, रिवाल्वर, पिस्तौल, गैंबलिंग लॉटरी और शीतल पेय जल के साथ कुछ अन्य वस्तुएं 28 फीसदी के दायरे में हैं, जिनकी कीमतों में कमी संभव नहीं दिख रही।

loading...