Breaking News
  • बिहारः मुठभेड़ में खगड़िया के पसराहा थाना अध्यक्ष आशीष कुमार सिंह शहीद
  • J-K: पुलवामा में सुरक्षा बलों ने हिजबुल के एक आतंकी को मार गिराया
  • दिल्ली में आज पेट्रोल की कीमत 82.66 रुपए प्रति लीटर, डीजल 75.19 रुपए प्रति लीटर
  • J-K:स्थानीय निकाय चुनाव के लिए तीसरे चरण की वोटिंग जारी

सिर्फ प्रणब मुखर्जी ही नहीं, RSS के कार्यक्रम में ये दिग्गज भी हुए हैं शामिल

नागपुर:  देश के पूर्व राष्ट्रपति और कांग्रेस के दिग्गज नेता कहे जाने वाले प्रणब मुखर्जी को पिछले दिनों देश में राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ यानी RSS के तौर पर पहचान रखने वाली संस्था ने अपने एक कार्यक्रम में आमंत्रित किया, जिसके लिए मुखर्जी बिना किसी बात विचार के तैयार हो गए। लेकिन मुखर्जी का यह फैसाल कांग्रेस पार्टी को पंसद नहीं आया, जिसके कारण उन्हें अपने ही दल के नेताओं के विरोध का सामना करना पड़ा।

हालांकि इसके बाद मुखर्जी विरोध को ताक पर रखते हुए सात जून को आरएसएस के कार्यक्रम में शामिल हुए, इस कार्यक्रम में उन्होंने क्या कहा ये जानकारी आपको हमारी अन्य रिपोर्ट में मिल चुकी है, लिहाज इस रिपोर्ट में आपको यह बता रहा है कि सिर्फ प्रणब मुखर्जी ही नहीं बल्कि ये सभी दिग्गज नाम भी आरएसएस के कार्यक्रम में शामिल हो चुके हैं, जिनमें मुख्य तौर पर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू का नाम भी सुमार है।

नमस्ते सदा वत्सले मातृभूमे: इस बुरे दौर से गुजरा है संघ, लगा दिया गया था प्रतिबंध

मीडिया रिपोर्ट में संघ के नेताओं के अनुसार बताया जाता है कि साल 1934 में महात्मा गांधी वर्धा में संघ के शिविर में शामिल हुए थे, इस दौरान उन्होंने संघ के संस्थापक डॉ. हेडगेवार से मुलाकात करने के साथ-साथ विस्तृत चर्चा भी किया। वहीं महात्मा गांधी ने 16 सितंबर 1947 की सुबह दिल्ली में स्वयंसेवकों को संबोधित भी किया है। संबोधन के दौरान गांधी जी ने कहा था कि संघ के अनुशासन, सादगी और समरसता की प्रशंसा के काबिल है।

वहीं दावा किया जाता है कि साल 1962 में भारत और चीन युद्ध के समय संघ के स्वयंसेवकों की सेवा से प्रभावित हुए प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू भी साल 1963 की गणतंत्र दिवस परेड में संघ को आमंत्रित किया था। इस दौरान 3 हजार स्वयंसेवकों ने पूर्ण गणवेश में भाह लिया था। इसके भारत के पूर्व राष्ट्रपति डॉ. जाकिर हुसैन को लेकर भी कहा जाता है कि वह भी संघ के कार्यक्रम में शामिल हो चुके हैं।

कांग्रेस के जले पर नमक: प्रणब दा ने केशव हेडगेवार को बताया मां भारती का सपूत

इसके साथ ही जयप्रकाश नारायण को लेकर भी बताया जाता है कि वह भी संघ के निमंत्रण पर कार्यक्रम में शामिल हो चुके हैं। नारायण ने 3 नवंबर 1977 को पटना में संघ शिक्षा वर्ग को संबोधित भी किया था। जबकि साल 1939 में भीमराव आंबेडकर भी पुणे में संघ शिक्षा वर्ग के कार्यक्रम में शामिल हो चुके हैं।

शाह-ठाकरे मुलाकात: नहीं बनी बात टूट गयी दोस्ती, क्या वापस लेगी सरकार से समर्थन?

इसके अलावा पूर्व जनरल फील्ड मार्शल करियप्पा साल 1959 में, तो साल 2014 में श्री श्री रविशंकर भी संघ के कार्यक्रम में शामिल हो चुके हैं। इतना ही नहीं देश के जाने माने कारोबारी रतन टाटा भी संघ मुख्यालय का दौरा कर चुके हैं।

loading...