Breaking News
  • पंजाब: AAP विधायक पर लोहे की रॉड से हमला, गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती
  • जम्मू-कश्मीर: अनंतनाग में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़, 2-3 आतंकियों के छिपे होने की ख़बर
  • कश्मीर में 7 दिवसीय विश्व फिल्म महोत्सव का आगाज

दो राज्यों की 3 लोकसभा और 2 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव का ऐलान, BJP की होगी अग्नि परीक्षा!

लखनऊ/पटना: उत्तर परदेश और बिहार में एकबार फिर से चुनावी रणभेदी का आगाज हो चुका है। शुक्रवार को चुनाव आयोग ने उत्तर प्रदेश की दो लोकसभा और बिहार की एक लोकसभा सहित दो विधानसभा सीटों पर उपचुनाव की अधिसूचना जारी कर दी है। दोनों राज्यों की सभी सीटों पर 11 मार्च को मतदान होगा।

बतादें कि उत्तर प्रदेश गोरखपुर और फूलपुर और बिहार की अररिया लोकसभा सीट सहित बिहार जहानाबाद और भभुआ विधानसभा सीट को लेकर शुक्रवार को चुनाव आयोग ने अधिसूचना जारी कर दी है। सभी सीटों पर 11 मार्च को वोटिंग होगी और 14 मार्च को परिणाम आयेंगे। शुक्रवार को आयोग ने अधिसूचना जारी करते हुए कहा दोनों राज्यों की सभी सीटों पर उपचुनाव के लिए नामांकन प्रक्रिया 13 फरवरी से 20 फरवरी तलक चलेगी।

चार दिवसीय यात्रा: पीएम नरेंद्र मोदी करेंगे इस देश का एतिहासिक दौरा

वहीँ 23 फरवरी तक नामांकन वापस लिए जाएंगे। आयोग की अधिसूचना जारी करने के साथ ही दोनों राज्यों में चुनावी सरगर्मी तेज हो गयी है। जहाँ उत्तर प्रदेश की प्रतिष्ठित सीट मानी जाने वाली गोरखपुर अभी तक बीजेपी के कब्जे में थी, वहीँ योगी आदित्यनाथ के सीएम बनने साथ ही यह सीट खाली हो गयी है। इसके साथ ही उपमुख्यमंत्री केशवप्रसाद मौर्य की फूलपुर लोकसभा सेट भी बीजेपी के लिए नाक की सीट मानी जा रही है। दोनों के सदस्यता छोड़ने के बाद यह सीटें खाली हो गयी थी।

आतंकी की बरसी: अलगावादियों ने बुलाया बंद, हिंसा के डर से लगा घाटी में प्रतिबंध

वहीं अररिया से आरजेडी से सांसद रहे तस्लीमुद्दीन के निधन के बाद यह सीट खाली हो गयी थी। ऐसे में आगामी 11 मार्च को इस सभी सीटों पर मतदान होना है। माना जा रहा है कि राजस्थान की दो लोकसभा सीटों पर आये चुनाव परिणाम से बीजेपी के लिए उत्तर प्रदेश की यह सीटें चिंता का कारण बन सकती है। उत्तर प्रदेश की दोनों सीटों पर बीजेपी जहाँ अपना परचम लहराने के लिए उतरेगी, वहीँ विपक्ष भी बीजेपी को कई मुद्दों पर घेरते हुए उसे उसी के घर मी पटखनी देने का प्लान करेगी। उत्तर प्रदेश की दोनों सीटों पर बीजेपी का मुकाबला कांग्रेस, सपा और बसपा से होगा। वहीँ बिहार में भी सीएम नीतीश कमार और बीजेपी नेता व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी के लिए अरनिया लोकसभा और जहानाबाद विधानसभा और भभुआ सीटें प्रतिष्ठा का विषय होंगी। राज्य में नीतीश के महागठबन्ध से अलग होने के बाद यह चुनाव रोमांचक होना माना जा रहा है।

यह भी देखें-

loading...