Breaking News
  • INX मीडिया केस: पी चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम CBI में पेशी
  • वाराणसी: BHU के अस्पताल में भी मरीजों के साथ लापरवाही
  • पूर्व रेल मंत्री और कांग्रेस नेता पवन बंसल के बेटे के ठिकानों पर आयकर ने छापेमारी की
  • यूपी: एक और रेल हादसा- इंजन सहित कैफियत एक्सप्रेस के 10 डिब्बे पटरी से उतरे

मोदी के समझाने के बाद भी कांग्रेस ‘नोटबंदी’ के फैसले की जांच पर तुली!

नई दिल्ली:  मोदी सरकार द्वारा 500 और 1000 के पुराने नोटों पर बैन लगाने के बाद से देश में पौसों की डिमांड जैसे बढ़ गई हो। सरकार के इस फैसले के साथ देश की जनता तो दिख रही है, लेकिन जतना को 3-4 दिन बीत जाने के बाद भी काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

इन सभी बातों को देखते हुए पीएम मोदी ने रविवार को देशवासियों को संबोधित किया और फैसले पर समर्थन के लिए भावूक होकर जनता का अभिवादन किया। इस दौरान मोदी ने नोटबंदी की पूरी प्रक्रिया को समझाने की भी भरपूर कोशिश की।

लेकिन इधर कांग्रेस पार्टी सरकार के इस फैसले को सवालों के घेरे में रखते हुए इसकी जांच कराने की मांग कर रही है। कांग्रेस पार्टी की ओर से आनंद शर्मा ने कहा कि हम लोग यह पहले भी कह चुके है और एक बार फिर से कहते है कि ‘नोटबंदी’ के फैसले की जांच हो।

उन्होंने भाजपा पर आरोप लगते हुए कहा कि भाजपा के लोगों को इस बात की खबर पहले से थी। सरकार के इस फैसले के पहले देश में सोना-चांदी, हीरे, विदेशी मुद्रा में भारी पैमाने पर हेरफेर हुआ है। शर्मा ने इस फैसले की जांच अदालती की निगरानी में कराने की मांग की है।

उन्होंने बैंकों में पैसे बदलने के लिए उमड़ रहे भीड़ का हवाला देते हुए सरकार पर लोगों की खिल्ली उड़ाने का भी आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने देश को अपमानित किया है।

loading...