Breaking News
  • गुजरात: भुज में आपसी रंजिश में घर में लगाई आग, मां-बेटी की झुलसकर मौत
  • प्रधानमंत्री मोदी की अध्यक्षता में नीति आयोग गवर्निंग काउंसिल की चौथी बैठक
  • MP: शाजापुर में DJ की आवाज को लेकर दो समुदायों में झड़प, नियंत्रण में हालत
  • वेनेजुएला: कराकास में एक क्लब में आंसु गैस के स्टोरेज में विस्फोट, 8 नाबालिगों सहित 17 की मौत

इफ्तार पार्टी में राहुल को मिली 'टोपी', गायब रहे प्रमुख विपक्षी नेता

नई दिल्ली: कांग्रेस पार्टी की इफ्तार पार्टी में कई नेताओं की गैर मौजूदगी ने कांग्रेस पार्टी को मुश्किल में डाल दिया है। बुधवार को ताज होटल में इफ्तार पार्टी में विपक्ष को एकबार फिर से साथ लाने की मुहीम को झटका माना जा रहा है।

बतादें कि बुधवार को कांग्रेस पार्टी की और से सियासी इफ्तार पार्टी का आयोजन किया गया था। जिसका अहम् मकसद 2019 के पहले विपक्षी कुनबे को एक करना। लेकिन बुधवार को आयोजित हुयी इफ्तार पार्टी से वह नेता गायब रहे। जिन्हों हालियाँ उपचुनाव में बीजेपी को पटखनी दी थी। ऐसे में कांग्रेस पार्टी के लिए यह बड़ी मुश्किल घड़ी है कि वह इस सन्देश को किस प्रकार स्वीकार करे। बुधवार को राहुल गांधी की सियासी इफ्तार पार्टी विपक्ष के दिग्गज नेता गायब रहे। जिससे विपक्षी की एका पर एकबार फिर से सवाल खड़ा हो गया है। दरअसल आयोजित हुए सियासी इफ्तार पार्ट्री में  बुधवार को कई दलों के नेता दिखाई दिए लेकिन उत्तर प्रदेश के दो दिग्गज अखिलेश यादव और मायावती कहीं नजर नहीं है। हालाँकि उनके न आने का कारण कोई भी हो सकता है।

लेकिन कांग्रेस के लिए यह अच्छी खबर नहीं है। मालूम हो कि हालिया उपचुनाव में उत्तर परदेस की कई सीटों पर सपा बसपा के गठजोड़ ने बीजेपी की चूलें हिला दी थीं। वहीँ कांग्रेस दोनों को अपने पाले में लेकर आगामी लोकसभा चुनाव में बीजेपी और नरेंद्र मोदी के सामने उतरना चाहती है। जिससे बीजेपी का मुकाबला किया जा सके। लेकिन अभी तक इस विपक्ष के बने महागठबंधन का अभी तक कोई नेता नहीं चुना गया है। जिसके कारण विपक्ष एक होकर भी बिखरा बिखरा सा है।

मोदी कैबिनेट ने लिए बड़े फैसले, बदल जाएगी प्रगति मैदान की तस्वीर

विदेश भाग सकता है रेप आरोपी दाती महाराज, जारी हुआ लुक-आउट नोटिस

हाल ही में राहुल ने महागठबंधन के नेता के बारे में पूछे जाने पर सवाल को टाल कर आगे बढ़ गये थे। वहीँ बुधवार को आयोजित हुई इफ्तार पार्टी में सीपीएम के सीताराम येचुरी, जेएमएम से हेमंत सोरेन को छोड़ कोई भी नेता आया पार्टी प्रमुख नहीं पहुंचा। तो वहीँ सपा और बसपा प्रमुख भी गायब रहे। बसपा से राज्यसभा सांसद सतीश मिश्रा ने शामिल हुए। बताया जा रहा है कि इफ्तार में कई मेहमानों ने राहुल गांधी को टोपी भी गिफ्ट की।

यह भी देखें-

loading...