Breaking News
  • दिल्ली के उस्मानपुर में प्रॉपर्टी डीलर का मर्डर, बदमाशों ने चलाईं अंधाधुंध गोलियां
  • जापान चुनाव: शिंजो आबे की पार्टी ने आम चुनावों में जीत हासिल कर की वापसी
  • हिमाचल: 9 नवंबर को विधानसभा चुनावों के लिए नामांकन दाखिल करने का आज अंतिम दिन
  • उत्तराखंड बना देश का चौथा खुले में शौच से मुक्त राज्य

ममता के बंगाल में फिर भड़की संप्रादायिक आग- जानिए अब तक क्या-क्या हुआ

नई दिल्ली: पश्चिम बंगाल एक बार फिर से संप्रादायिक हिंसा की आग में जल रहा है। जिसमें कईयों के घर जल कर राख हो गए, लेकिन नेताओं की राजनीति अब भी जारी है, तो इधर हिंसा की घटनाओं को लेकर राज्य के राज्यपाल केशरीनाथ त्रिपाठी और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी आमने-सामने है।

हालांकि अब मामले में हस्ताक्षेप करते हुए गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने राज्य सरकार से जवाब दलब किया है। इससे पहले खबर है कि राज्यपाल ने सीएम ममता बनर्जी से सूबे की कानून व्यवस्था पर जो सवाल जवाब किए वो ममता को पसंद नहीं आई उन्होंने राज्यपाल पर गंभीर आरोप मढ़ दिए।

HAPPY BIRTHDAY रणवीर सिंह, पढ़िए कुछ खास बातें...

राज्यपाल का सवाल-जवाब से ममता को इतनी चोट पहुंची की उन्होंने राज्यपाल पर धमकाने और अपमानित करने के आरोप तक लगाया दिए, हालांकि राज्यपाल ने अपने उपर लगे इन आरोपो को सिरे से ख़ारिज करते हुए कहा कि राज्य के मामलों को लेकर राज्यपाल मूक दर्शक नहीं बने रह सकते हैं।

क्या है पूरा मामला

दरअसल राज्य के 24 परगना जिले के बादुड़िया के रूद्रपुर गांव के एक शख्स द्वारा किए गए फेसबुक पोस्ट को लेकर यह हिंसा शुरू हुई है। बताया जाता है कि एक शख्स ने फेसबुक पोस्ट पर एक विशेष धर्म को लेकर आपत्तिजनक पोस्ट किया, आरोपी शख्स को पुलिस ने गिरफ्तार किया लेकिन तब तक इधर इस पोस्ट से गुस्साएं लोगों ने सड़क पर उतर कर तोड़फोड़ मचा दी और कई गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया।

हिंसा इनती बढ़ गई की हालात पर काबू पाने के लिए सरकार को सेना की मदद तक लेनी पड़ी। अब इस घटना को लेकर सत्ताधारी टीएमसी का आरोप है कि राज्य  मे बीजेपी हिंसा भड़काने का काम कर रही है, जबकि बीजेपी का कहना है कि ऐसी घटनाएं सरकार की शह पर हो रही है। हिंसा से निपटने के लिए ममता ने शांतिवाहिनी दल गठन करने का आरोप लगया है। यह दल पुलिस और स्थानिय लोगों के साथ मिल कर हिंसा को सांत करना का काम करेगी।

यूपी में तय है अखिलेश-माया का मिलन- एक बड़े नेता ने दिया बयान !

इससे पहले हिंसा के लिए राज्या सरकार को जिम्मेदार बताते हुए बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने एक वीडियो जारी कर राज्य सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि, पुलिस की मौजूदगी में हिंदुओं के घर जलाए गए। विजयवर्गीय ने अन्य कई गंभीर आरोप भी लगाए।

‘800 साल पुराना है भारत और इजरायल का रिश्ता’

हालांकि बंगाल के लिए यह कोई पहला मौका नहीं है, जब यहां संप्रादायिक हिंसा की आग भड़की है, राज्य में छोटी-छोटी बातों को लेकर अक्सर हिंसा भड़कती रहती है और ऐसे मामले में पक्षपात की खबरें भी आती रहती है।

loading...