Breaking News
  • राजकीय सम्मान के साथ मनोहर पर्रिकर का अंतिम संस्कार
  • प्रयागराज से वाराणसी तक बोट यात्रा कर रही हैं प्रियंका गांधी
  • बोट यात्रा से पहले प्रियंका ने किया गंगा पूजन, देश का उत्थान और शांति मांगी
  • भारतीय वायु सेना में शामिल हुआ बहुउद्देशीय हेलीकॉप्टर Chinook
  • पत्नी के साथ विदेश यात्रा पर रवाना हुए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद- क्रोएशिया, बोलिविया और चिली की यात्रा पर
  • पाकिस्तान: सिंध में दो नाबालिग हिंदू बहनें अगवा, सुषमा स्वराज ने मांगी रिपोर्ट
  • जनवरी में 9 लाख लोगों को मिला रोजगार, EPFO की रिपोर्ट में खुलासा

आरुषि-हेमराज: हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ SC पहुंची सीबीआई

नई दिल्ली: आरुषि-हेमराम हत्याकांड के मामले में पिछले साल ही इलाहबाद हाईकोर्ट ने तलवार दम्पति को जमानत देते हुए निचली अदालत के फैसले पर आपत्ति जताई थी। वहीँ अब हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ सीबीआई सुप्रीम कोर्ट पहुँच गयी है।

बतादें कि भारत का बहुचर्चित आरुषि-हेमराम हत्या के मामले में राजेश तलवार और पति पत्नी नुपुर तलवार को बरी कर दिया था। जिसके बाद अब इस मामले में सीबीआई ने हाईकोर्ट के फैसले को चुनौती देते हुए सुप्रीम कोर्ट पहुँच गयी है। सीबीआई की अपील पर सुप्रीम कोर्ट इस मामले की सुनवाई करेगा। 16 मई साल 2008 में अरुषि तलवार का शव उनके ही घर में मिला था। वहीँ दो दिन बाद तलवार दम्पति के नौकर हेमराज का भी शव छत पर मिला था। सनसनीखेज मामले की जांच सीबीआई कर थी।

तीन तलाक पर मोदी सरकार को बड़ा झटका: राज्यसभा में विपक्ष का हंगामा

इस मामले में पूरी जांच और केस के दौरान सबकुछ संदिग्ध रहा है। सीबीआई ने जांच में शक की आधार पर तलवार दम्पति के खिलाफ केस चलाया और गाजियाबाद स्थित सीबीआई कोर्ट ने 26 नवंबर 2013 को इस मामले में दंत चिकित्सक डॉक्टर राजेश तलवार और उनकी पत्नी डॉक्टर नूपुर तलवार को दोषी ठहराते हुए उम्रकैद की सजा सुना थी। वहीँ सीबीआई कोर्ट के फैसले को तलवार दंपती ने इलाहाबाद हाई कोर्ट में चुनौती दी।

कांग्रेस नेता का बड़ा हमला: चौकीदार, भागीदार ही नहीं देश के गुनहगार भी हैं मोदी

जिसपर पिछले साल 12 अक्टूबर को हाई कोर्ट सबूतों के अभाव में दोनों को मामले से बरी कर दिया था। साथ ही निचली अदालत के फैसले पर कड़ी आपत्ति जताते हुए नाराजगी भी जताई थी। कोर्ट ने कहा था कि शक के आधार पर किसी को सजा नहीं दी जा सकती है। वहीँ सीबीआई ने हाईकोर्ट के इस फैसले पर विरोध किया था। वहीँ अब सीबीआई ने हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका लगाई है। जिसपर सुप्रीम कोर्ट की जस्टिस रंजन गोगोई की अगुआई वाली बेंच ने सीबीआई की याचिका की सुनवाई करेगी।

यह भी देखें- 

loading...