Breaking News
  • अमेरिकी विदेश मंत्री पोम्पियो आज करेंगे पीएम मोदी और एस. जयशंकर से मुलाकात
  • WC 2019 : इंग्लैंड को 64 रनों से हराकर सेमीफाइनल में पहुंचा ऑस्ट्रलिया
  • WC 2019 : बर्मिंघम के मैदान पर आज भिड़ेंगे न्यूजीलैंड और पाक
  • राज्यसभा में 26 जून को राष्ट्रपति के अभिभाषण पर जवाब देंगे पीएम मोदी
  • केंद्रीय गृहमंत्री शाह 26 जून को जाएंगे श्रीनगर, कल करेंगे बाबा बर्फानी के दर्शन

‘चौबे जी छब्बे बनने निकले थे और दूबे बनकर बाहर आए’

नई दिल्ली: फ्रांस के साथ राफेल डील मे कथित घोटाले को सत्ताधारी भाजपा और कांग्रेस के बीच जारी आरोप-पत्यारोप के बीच बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गंधी पर जोरदार हमला बोला है। शाह ने कहा कि जब मामला सुप्रीम कोर्ट में गया तो मैंने राहुल गांधी से कहा कि आपके पास जितने भी दस्तावेज हैं वो कोर्ट को दे दीजिये, लेकिन नहीं दिया, सिर्फ भ्रांतियां फैलाई।

शाह ने कहा कि, उन्हें (राहुल) लगा था कि हम संसद में नहीं बोलेंगे, लेकिन झूठ का पर्दाफाश किया। रक्षामंत्री ने हर-एक प्वाइंट का जवाब दिया। शाह ने राहुल पर वयंग करते हुए कहा कि, चौबे जी छब्बे बनने निकले थे और दूबे बनकर संसद से बाहर आए। इसके साथ ही उन्होंने सरकार द्वारा सवर्ण जाति को आर्थिक आधार पर 10 प्रतिशत आरक्षण के फैसले को भी बहुत बड़ा कदम करार दिया है।

सवर्ण आरक्षण को लेकर कांग्रेस पार्टी पर हमला बोलते हुए शाह ने कहा, कपिल सिब्बल ने कहा कि हम जनता को मूर्ख बना रहे हैं। जरा अपना घोषणापत्र उठाकर देखिए, आपने भी ये वादा किया था। गिने-चुने मौके छोड़कर हमने महंगाई को काबू में रखा, हम देश को सुधारने के लिए और आगे बढ़ाने के लिए आए हैं।

बता दें कि हाल ही में आर्थिक आधार पर सवर्ण वर्ग के लिए सरकारी नौकरी और शिक्षा में 10 प्रतिशत आरक्षण देने का ऐलान किया है। हालांकि संसद से मंजूरी मिलने के बाद इस फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी गई है।

वहीं शाह ने राम मंदिर के मसले पर भी कांग्रेस को निशाने पर लेते हुए कहा कि, उन्होंने अपनी स्थिति स्पष्ट करनी चाहिए, वे रोड़ा अटकाते रहे हैं। आपको बता दें कि शाह ने उक्त बयान राजधानी के नई दिल्ली के रामलीला मैदान में राष्ट्रीय अधिवेशन के दौरान दिया है।

loading...