Breaking News
  • दिल्ली के उस्मानपुर में प्रॉपर्टी डीलर का मर्डर, बदमाशों ने चलाईं अंधाधुंध गोलियां
  • जापान चुनाव: शिंजो आबे की पार्टी ने आम चुनावों में जीत हासिल कर की वापसी
  • हिमाचल: 9 नवंबर को विधानसभा चुनावों के लिए नामांकन दाखिल करने का आज अंतिम दिन
  • उत्तराखंड बना देश का चौथा खुले में शौच से मुक्त राज्य

बीजेपी ने इस दमदार नेता को बनाया अपना उपराष्ट्रपति पद का उम्मीद्वार

NEW DELHI:- बीजेपी पार्लियामेंट्री बोर्ड की बैठक में उपराष्ट्रपति पद के लिए वेंकैया नायडू के नाम पर मुहर लग गई है। केंद्रीय शहरी विकास मंत्री और बीजेपी के पूर्व अध्यक्ष नायडू एनडीए के उम्मीदवार होंगे।

मीटिंग के बाद पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने गठबंधन दलों से भी बात की। बताया जा रहा है कि अमित शाह सहयोगी दलो के साथ बात कर उन्हें नायडू के नाम की जानकारी दी। ये भी जानकारी है कि बीजेपी के सभी सहयोगी दल नायडू के नाम को लेकर सहमत हैं।

अमित शाह ने क्या कहां?

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने बताया कि पार्लियामेंट्री बोर्ड के सभी सदस्यों और सहयोगी दलों से चर्चा करने के बाद वेंकैया नाडयू जी को उपराष्ट्रपति पद के प्रत्याशी बनाने का निर्णय किया गया। नायडू जी 1970 से सार्वजनिक जीवन में रहे। वो जेपी आंदोलन में दक्षिण के एक प्रमुख नेता रहे। नायडू जी देश के वरिष्ठ नेताओं में से एक हैं। वेंकैया जी बचपन से ही बीजेपी के साथ जुड़े रहे। एनडीए के सभी साथी दलों ने वेंकैया जी के नाम को स्वागत किया है। मंगलवार को नायडू जी नामांकन दाखिल करेंगे।

बैठक में जाने से पहले नायडू ने कहा था कि पार्टी जो निर्णय करेगी वो उन्हें मंजूर होगा। हालांकि नायडू के अलावा महाराष्ट्र के राज्यपाल सी। विद्यासागर राव और पश्चिम बंगाल के गवर्नर केसरी नाथ त्रिपाठी का नाम भी चर्चा में चल रहा था।

कहा जा रहा है कि बीजेपी की अगुवाई वाले एनडीए उम्मीदवार के पास विधायी कार्यों का बड़ा अनुभव होगा। बीजेपी की कोशिश अपने उम्मीदवार के जरिए राजनीतिक संदेश देने की है।

हालांकि राष्ट्रपति चुनाव में एनडीए उम्मीदवार का समर्थन कर रही जेडीयू उपराष्ट्रपति के लिए यूपीए के उम्मीदवार के पक्ष में है।

दूसरी ओर कांग्रेस की अगुवाई वाले यूपीए ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के पौत्र गोपाल कृष्ण गांधी को अपना उपराष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाया है। गांधी ने रविवार को राजनीतिक पार्टियों के सदस्यों से मुलाकात की और अपने लिए समर्थन मांगा।

loading...