Breaking News
  • देश के कई राज्यों में बाढ़ का कहर, सेना और एनडीआरएफ की टीमें बचावा कार्य में जुटी हैं
  • बिहार: रात भर चला ड्रामा, तेजस्वी बोले- ‘हमें मिले सरकार बनाने का मौका, ये तानाशाही है’
  • बिहार: महागठबंध से अलग हुए नीतीश- BJP के साथ बनाई नई सरकार, शपथ ग्रहण आज
  • रामेश्वरम में डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम मेमोरियल का उद्घाटन- पीएम मोदी की मौजूदगी में

तय हुआ तेजस्वी का इस्तीफा- हाथ जोड़कर चलते बने सीएम नीतीश !


पटना: भ्रष्टाचार के आरोप में फंसे लालू यादव और कठिन परीक्षा से गुजर रहे बिहार के सीएम नीतीश कुमार को लेकर खबर है कि दोनों की बातचीत भी बंद हो गई है। दरअलसल लालू के भ्रष्ट्र कारनामों में उनके बेटे और बिहार के उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के खिलाफ भी सीबीआई ने मुकदमा दर्ज किया है।

जिसके बाद अब अपनी छवि को बरकरार रखने के लिए सीएम नीतीश भ्रष्टाचार के आरोपी मंत्री तेजस्वी के इस्तीफे पर अड़े हैं, जबकि लालू और उनकी पार्टी ने पहले ही साफ कर दिया है कि तेजस्वी का इस्तीफा नहीं होगा।  इसी बात को लेकर महागठबंधन अब टूटने ही वाला है, इस बीच इसके बचाव के लिए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी भी कूद पड़ी हैं।

लेकिन जिस तरह से नीतीश कुमार पटना में कौशल विकास मिशन के कार्यक्रम में पहुंचे और उनके साथ ही उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव का कुर्सी भी लगाया गया था, लेकिन वह नहीं पहुंचे, जिसके बाद तेजस्वी के नाम वाले कुर्सी को ढंक दिया गया और फिर वहां से नेम प्लेट भी हटा दिया गया है।

तो वहीं नीतीश कुमार से जब मीडिया ने तेजस्वी के इस्तीफे और लालू से गठबंधन पर सवाल किया तो वह हाथ जोड़ कर चलते बने, इसके कई मायने निकाले जा सकते हैं। हालांकि मीडिया में ऐसी खबर जोरों पर है कि नीतीश कुमार और जदयू ने तेजस्वी का इस्तीफा तय कर दिया है।

ऐसे में अगर राजद और लालू तेजस्वी के इस्तीफे पर हानी नहीं भरते हैं तो नीतीश के पार तेजस्वी को बर्खस्त करने के अलावा कोई दूसरा रास्ता नहीं है। तो वहीं खबर है कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी भी लालू यादव से तेजस्वी के इस्तीफे पर बात कर रहीं हैं।

loading...