Breaking News
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भुवनेश्वर दौरे पर
  • चक्रवाती तूफान DAYE ने ओडिशा के गोपालपुर तट पर दी दस्तक
  • एशिया कप: पाकिस्तान को 9 विकेट सो धोकर फाइनल में पहुंचा भारत

SBI ने बंद किये 41 लाख बैंक खाते, आपका भी आ सकता है नंबर

नई दिल्ली: भारतीय स्टेट बैंक (SBI) की ओर से बड़ी खबर आ रही है, बताया जा रहा है कि SBI ने करीब 41.16 लाख बैंक खातों को बंद कर दिया है। एक RTI से मिली जानकारी में इसबात का खुलासा हुआ है। जिसमें बताया गया है कि खातों में न्यूनतम राशि (मिनिमम बैलेंस) न रखने के कारण इस खातों को बंद किया गया है।

बतादें कि अगर आपका भी SBI में खाता है तो सावधान रहने की की जरूरत है। एक RTI में इस बात का खुलासा हुआ है कि बैंक ने न्यूनतम बैलेंस न रखने के कारण चालू वित्त वर्ष की अप्रैल-जनवरी की अवधि में करीब 41.16 लाख बचत खातों को बंद कर दिया है। SBI पिछले वर्षी ही खातों में न्यूनतम बैलेंस रखने का नियम बनाया था। जिसके बाद न्यूनतम बैलेंस न रखने के मामले में करीब 41.16 लाख बैंक खातों को बद किया है। मीडिया में जारी जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि मध्य प्रदेश के नीमच निवासी चंद्रशेखर गौड़ ने RTI  लगाकर बैंक से सवाल किया था। जिसमें बताया गया है कि एक अप्रैल, 2017 से 31 जनवरी, 2018 के बीच SBI ने बचत खातों में न्यूनतम बैलेंस न रखने के कारण 41.16 लाख खातों को बंद कर दिया।

खुशखबरी: अब बैंक खाते में रखना होगा इतना बैलेंस नहीं तो...

बैंक की ओर से पिछले साल ही खातों में न्यूनतम बैलेंस रखने को लेकर नियम बनाया था। जिसके बाद यह बैंक की जमकर आलोचना हुई थी। वहीँ मंगलवार को ही SBI की ओर से बैंक खातों में न्यूनतम रकम रखने में बड़ी कटौती की गयी है। बैंक ने 75 फीसद तक कटौती की है। एक एक रिपोर्ट में बताया गया था कि बैंक बचत खाता धारकों द्वारा खाते में न्यूनतम बैलेंस नहीं रखने पर 1,771 करोड़ रकम वसूल ली थी। जिसके बाद बैंक की जमकर आलोचना हुई। वहीँ बैंक द्वारा जुर्माने से वसूली गई रकम जुलाई-सितंबर में बैंक को हुए 1,581.55 करोड़ रुपये के मुनाफे से भी ज्यादा और अप्रैल-सितंबर छमाही में हुए 3,586 करोड़ रुपये के कुल शुद्ध लाभ का करीब-करीब आधी है। जिसके बाद इसको लेकर तमाम प्रतिक्रियाएं दी गयी।

फूलपुर लोकसभा उपचुनाव: SP-BSP गठजोड़ ने बीजेपी को पछाड़ा

वहीँ मंगलवार को एसबीआई ने अपने ग्राहकों को बड़ी राहत देते हुए अब बैंक में न्यूनतम बैलेंस नहीं रखने पर लगने वाले जुर्माने में करीब 70 से 75% की कटौती कर दी है। बैंक के इस कदम से करीब 25 करोड़ ग्राहकों को फायदा होगा। जोकि बचत खाता धारक हैं। बैंक के नये नियमों के अनुसार महानगरों और शहरी क्षेत्रों में बचत खाते में न्यूनतम रकम नहीं रखने पर हर महीने 50 रुपये का जुर्माना वसूला जाता था। जिसे बैंक ने घटाकर महज 15 रुपये कर दिया है। इसी के साथ ही अर्ध-शहरी क्षेत्रों के ग्राहकों के को न्यूनतम बैलेंस नहीं रखने पर हर महीने 40 रुपये जुर्माना देना पड़ता था जिसे घटाकर 12 रुपये कर दिया गया है। इस जुर्माने के साथ GST चार्ज अलग से देना होगा। बैंक का नया नियम 1 अप्रैल से लागू होगा।

यह भी देखें-

loading...