Breaking News
  • राजकीय सम्मान के साथ मनोहर पर्रिकर का अंतिम संस्कार
  • प्रयागराज से वाराणसी तक बोट यात्रा कर रही हैं प्रियंका गांधी
  • बोट यात्रा से पहले प्रियंका ने किया गंगा पूजन, देश का उत्थान और शांति मांगी
  • आतंकवाद के खिलाफ़ कार्रवाई में सुरक्षाबलों के हाथ बड़ी सफलता, 36 घंटों के अंदर 8 आतंकी ढेर
  • पाकिस्तान ने राष्ट्रीय दिवस पर अलगाववादी नेताओं को किया आमंत्रित, भारत ने जताया सख्त ऐतराज
  • शहीद दिवस पर आजादी के अमर सेनानी वीर भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु को नमन कर रहा है देश
  • आज IPL के 12वें सीजन का आरंभ, एम एस धोनी और विराट कोहली आमने-सामने

राजस्थान: गहलोत और पायलट की मौजूदगी में मुख्यमंत्री का ऐलान!

जयपुर: पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव के लिए चुनावी प्रचार-प्रसार के दौरान सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी और मुख्य विरोधी कांग्रेस पार्टी के बीच तीन राज्य छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और राजस्थान में कांटे की टक्कर हुई लेकिन इस टक्कर में भाजपा को मुंह की खानी पड़ी। इन तीन भाजपा शासित राज्यों में अब कांग्रेस पार्टी की सरकार बन रही है।

लेकिन चुनाव में मिली जीत के बाद कांग्रेस पार्टी के लिए राजस्थान और मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री का चुनाव करना तेड़ी खीर साबीत हो रही है। दोनों राज्यों में कांग्रेस पार्टी के विधयकों और जनता के बीच अपनी-अपनी पसंद है। इस रेस में सचिन पायलट और पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बीच कांटे की टक्कर चल रही है।

गहलोत और पायट के समर्थन हर जगह नारेबाजी कर रहे हैं। इस बीच पायलट के समर्थकों ने कांग्रेस की बैठक के दौरान नारेबाजी कर दी। जिससे गहलोत ने करार दिया। हालांकि नारेबाजी करने वाले समर्थकों की माने तो वो अपनी मांग रख रहे हैं, लेकिन आलाकमान के फैसले का स्वागत करेंगे।

इससे पहले गुरुवार सुबह गहलोत कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकत के लिए दिल्ली पहुंचे और मुलाकात के तुरंत बाद जयपुर के लिए लौट गए। इस दौरान मीडिया में उनसे कई सवाल किए, लेकिन उन्होंने कुछ जवाब नहीं दिया। हालांकि बैठक के बाद खबर है कि मुख्यमंत्री की बात पर कांग्रेस दो गुट में है, लेकिन सभी गुट आलाकमान के फैसले का स्वागत करने की बात कर रहे हैं।

अंदर की तस्वीरें- शादी से ठीक पहले कपिल ने पूछा ‘फेरे लूं या भाग जाऊं’

हालांकि मुख्यमंत्री के लिए सभी राज्यों में विधायक दल की बैठक हो रही है, लेकिन कांग्रेस के हर नेता, विधायक का मानना है कि अंतिम फैसला कांग्रेस के ‘माई-बाप’ राहुल गांधी ही करेंगे।  वहीं खबर है कि राहुल गांधी मुख्यमंत्री का ऐलान 2019 में होने वाली लोकसभा चुनाव के लिहाज से करेंगे।

ईशा अंबानी की शादी में शामिल हुए कुछ खास मेहमानों की तस्वीर 

खबरों के अनुसार मामले पर जारी रस्साकशी को देखते हुए मुख्यमंत्री का ऐलान के दौरान अशोक गहलोत और सचिन पायलट की मौजूदगी में मुख्यमंत्री का ऐलान किया जाएगा। जिसके की यह साबित किया जा सके कि पार्टी में सबकुछ ठीक है। 

ईशा अंबानी की शादी का खर्च जान हैरान रह जाएंगे, देश की सबसे महंगी शादी… 

loading...