Breaking News
  • कश्मीर घाटी, लद्दाख में कड़ाके की शीतलहर जारी
  • पेट्रोल-डीजल के दाम में बढ़ोतरी, कच्चे तेल में नरमी
  • लोकसभा में सत्ता पक्ष, विपक्ष का हंगामा
  • पर्थ टेस्ट : 146 रन से हारा भारत, आस्ट्रेलिया ने की सीरीज में 1-1 से बराबरी
  • चक्रवाती तूफान Pethai Cyclone आज आंध्र प्रदेश के तट से टकराएगा

US में बसी भारतीय पत्रकार का आरोप, ‘एम जे अकबर ने मेरे फाड़े थे कपड़े और...

नई दिल्ली : # MeToo कैंपेन के तहत 20 से अधिक महिलाओं के साथ छेड़छाड़ का आरोप झेल रहें बीजेपी सांसद पर एक और घिनौना आरोप लगा। यह आरोप US में बसी एक भारतीय पत्रकार ने लगाया। उन्होंने कहा कि जयपुर के होटल में मैं एम जे अकबर के साथ एक खबर पर चर्चा करने के लिए गई थी। जहां उन्होंने मेरे साथ जबरदस्ति करने की कोशिश की जब मैंने उन्हें मना किया तो उन्होंने मेरे कपड़े फाड़ दिए औऱ मेरा रेप किया। मैंने काफी संघर्ष किया, लेकिन वो शारीरिक तौर पर मुझसे ज्यादा ताकतवर थे और मैं कुछ कर न सकीं। आपको बता दें कि इस पत्रकार का नाम पल्लवी गोगोई हैं जिन्होंने इस घटना का जिक्र अमेरिका के सुप्रसिद्ध अखबार वाशिंगटने पोस्ट में की।

अस्थाना की अर्जी का CBI ने किया विरोध, कहा - रोविंग इन्क्वॉयरी की अनुमति नहीं

उन्होंने कहा कि एम जे अकबर इस घटना के दौरान मेरे बॉस थे। पल्लवी गोगोई ने बताया कि पुलिस में शिकायत करने के बजाय मुझे ज्यादा जिल्लत महसूस हो रही थी। मैंने इस बारे में किसी को भी नहीं बताया, क्या कोई मेरी बात पर भरोसा करता? मैंने खुद को ही दोषी मान लिया, मैं होटल के कमरे में गई ही क्यों थी?

अस्थाना की अर्जी का CBI ने किया विरोध, कहा - रोविंग इन्क्वॉयरी की अनुमति नहीं

इससे पहले साल 1994 की एक अन्य घटना का जिक्र करते हुए पल्लवी ने कहा, 'मैं उनके ऑफिस गई थी और कमरे का दरवाजा बंद था। मैंने उन्हें ओ-पेड पेज दिखाया और बताया कि कैसे इसकी हेडलाइन्स और रोचक बनाई हैं। अकबर ने मेरी कोशिश की तारीफ की और तुरंत मुझे किस करने के लिए लपके। इसके बाद मेरे चेहरा शर्म से लाल हो गया, मैंने अपनी एक सहयोगी को इस पूरे घटना के बारे में बताया।'

शर्मनाक : कांग्रेस के इस मंत्री ने दबाई महिला पत्रकार की छाती, और कहा...

अगर 56 इंच का सीना हैं तो अयोध्या पर अध्यादेश लाकर दिखाएं सरकार : ओवैसी

पल्लवी ने कहा कि अब से 2 हफ्ते पहले अकबर विदेश राज्य मंत्री के पद से इस्तीफा दे चुके हैं। उन्होंने अन्य महिला पत्रकारों की ओर से लगाए गए सभी आरोपों को बेबुनियाद बताया और एक शिकायतकर्ता के खिलाफ कोर्ट चले गए। इससे मुझे हैरानी नहीं हुई, वो अपने 'सच' को गढ़ने में लगे हैं। मुझे आज बोलकर कुछ हासिल होने वाला नहीं है। लेकिन ये हृदय विदारक था और करीबी लोग मेरा दर्द समझेंगे।

‘नारी सम्मान’ भूला ‘योगी का विधायक’, व्यापारी को दी बेटी से बलात्कार की धमकी

पल्लवी ने बताया कि वो आज उन महिलाओं के समर्थन के लिए लिख रही हैं जिन्होंने अपने सच को बयां किया। साथ ही अपनी जवान बेटी और बेटे के लिए, ताकि जब कोई उन्हें शिकार बनाए तो वो लड़ सकें और कभी विक्टिम न बने। वो जान सकें कि 23 साल पहले मेरे साथ क्या हुआ था, मैं ऐसे बुरे वक्त से होकर गुजरीं हूं और अब मैं उससे आगे बढ़ रही हूं।

65 साल के बूढ़े ने की 18 साल की लड़की के साथ गंदी हरकत, बस में किया ये काम

loading...