Breaking News
  • भागलपुर: सरकारी खाते से राशि की अवैध निकासी मामले की CBI जांच, सीएम ने दिया निर्देश
  • आयकर विभाग ने लालू की बेटी मीसा भारती और उनके पति को पूछताछ के लिए बुलाया
  • उत्तर प्रदेश: 7,500 किसानों को सौंपा गया कर्ज माफी प्रमाण पत्र
  • स्पेन: बार्सिलोना आतंकी हमले में 13 की मौत, 2 संदिग्ध गिरफ्तार
  • तमिलनाडु: पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय जे. जयललिता की मौत की जांच के आदेश
  • जम्मू-कश्मीर: आतंकी फंडिंग के मामले में व्यापारी ज़हूर वताली गिरफ्तार

भारत-पाकिस्तान विवाद में कूदेगा अमेरिका ?

नई दिल्ली/वाशिंगटन: भारत पाकिस्तान के बीच जारी सीमा विवाद के मुद्दे पर भविष्य में अमेरिका दखल दे सकता है। इस बात के संकेत दिए गये है की अमेरिका अफगानिस्तान ही नहीं बल्कि भारत और पाकिस्तान के बीच जारी संघर्ष से चिंतित है। ऐसे में माना जा रहा है कि अमेरिका पाकिस्तान पर कोई बड़ी कार्रवाई कर सकता है।


बतादें कि आतंकवाद पर मुंह की खाने के बाद और आतंकवाद की जन्नत बने पाकिस्तान पर अमेरिका बड़े कदम उठा सकता है। ट्रंप प्रशासन अफगानिस्तान रणनीति की समीक्षा कर रहा है। इसमें भारत और पूरा दक्षिण एशिया क्षेत्र शामिल है। अमेरिका अफगानिस्तान के साथ साथ भारत और पाकिस्तान के बीच बने गतिरोध से भी चिंतित है, ऐसे में माना जा रहा है कि अमेरिका जल्द ही पाकिस्तान और आतंकवाद के खिलाफ कड़ा कदम उठा सकता है।

साथ ही ट्रंप प्रशासन अफगानिस्तान सैन्य कार्रवाई में भारत को भी शामिल कर सकता है, माना जा रहा है इससे दोनों देशों के बीच समन्वय बनेगा साथ ही दोनों देश एक ही समस्या पर लड़ाई लड़ेंगे। वहीँ इस कदम से  पाकिस्तान को मिर्ची लगने वाली है। ट्रम्प प्रशासन के सीनेटर जॉन मैक्केन भी इस युद्धग्रस्त देश पर अपनी योजना जाहिर कर रहे हैं। विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हेदर नोर्ट ने कहा कि हम सिर्फ अफगानिस्तान रणनीति पर ही नहीं, बल्कि भारत और पाकिस्तान समेत अन्य क्षेत्रीय समस्याओं के समाधान पर विचार कर रहे हैं।

अमेरिका का मानना है कि पाकिस्तान एशिया में आतंकवाद के लिए बड़ी जमीन बनकर उभर रहा है, इससे भारत सहित कई देशों को बड़ा खतरा बना हुआ है, ऐसे में माना जा रहा है कि अमेरिका पाकिस्तान पर कोई बड़ा एक्शन ले सकता है। वहीँ ज्ञात हो कि अमेरिका का ट्रंप प्रशासन पहले भी कई थर के प्रतिबन्ध पाकिस्तान पर लगा चुका है, अमेरिका यह भी मान चुका है कि पाकिस्तान आतंकवादियों के जन्नत है। इसके बाद अमेरिका का पाकिस्तान पर और कड़ा रुख अख्तियार करना लाजमी है। 

 

loading...

Subscribe to our Channel