Breaking News
  • दिवाली तक कम हो सकती हैं पेट्रोल-डीजल की कीमतें- सूत्र
  • रोहिंग्या और रखाइन में शांति की पूरी कोशिश की- म्यंमार की सर्वोच्च नेता आंग सान सू
  • गुरूग्राम: सुरक्षा कारणों से फिर से बंद हुआ रेयान स्कूल, अब 25 सितंबर को खुलेगा
  • संयुक्त राष्ट्र महासभा का 72वां सत्र मंगलवार से- शनिवार को विदेश मंत्री स्वराज का संबोधन

हिंदी दिवस: इस देश में हिंदी बिना नहीं मिलती है चुनावी जीत, हिंदी ही है आधिकारिक भाषा

सुवा: अगर आप भी यही सोचते हैं कि हिन्दी सिर्फ भारत में ही बोली जाती है, या हिन्दी भारत की ही राष्ट्रीय भाषा है तो यह गलत फहमी निकाल दीजिए। आज हम आपको दुसरे भारत की सैर कराते हैं मतलब फिजी की। फिजी देश प्रशांत महासागर के मेलानेसिया में द्वीप देश है। यहाँ भारतीय हिन्दी आधिकारिक भाषा के रूप में भी जानी जाती है।

बतादें कि जहाँ भारत जैसे देश में हिन्दी का वजूद खतरे में पड़ा है, वहीँ फिजी एक ऐसा देश है जहाँ हिन्दी बिना आपकी चुनावी जीत खतरे में पड़ जाती है। यहाँ आपको चुनाव में जीत हासिल करने के लिए हिन्दी आनी ही चाहिए। भाला अब तो आप चौंक गये ही होंगे कि भारत को छोड़कर भी एक ऐसा देश है  जहाँ हिन्दी का बोलवाला है।

पीएम मोदी ने पहली बार रखा मस्जिद में कदम- जाने क्या रहा खास

दक्षिण प्रशांत महासागर के 322 द्वीपों में स्थित यह देश फिजी के नाम से जाना जाता है। भारत में भले ही हिन्दी को मातृभाषा का दर्जा मिलने में अटकलें आती तो लेकिन फिजी देश ने हिन्दी को अपनी आधिकारिक भाषा बना रखा है।

कैसे हुई यहाँ हिन्दी की शुरुआत

भारत में गोरों का राज था, गोर लोग भारतीय मजदूरों को गुलाम बनाकर अपने हिसाब से कई देशों में भेजा करते थे, जहाँ भी उनका राज होता था। ऐसे ही गिरमिट प्रथा के तहत साल 1871 मई 5 को एक अंग्रेजों का जहाज 471 भारतीयों को लेकर फिजी पहुंचा था। 471 भारतीयों के साथ ही फिजी में हिंदी भी पहुँच गयी।

Inside Story: हनीप्रीत है राम रहीम की ‘असली पत्नी’, डेरे ने जारी किया बयान

इसी के साथ फिजी में धीरे धीरे हिन्दी भी पनपने लगी। 471 भारतीयों द्वारा पहुँची हिन्दी आज फिजी की आधिकारिक भाषा के रूप में जानी जाती है। यह हिन्दी को साल 1997 में आधिकारिक भाषा का दर्जा मिला। इसी हिंदी के साथ ही फिजियन हिंदी या फिजियन हिंदुस्तानी के नाम से भी जानते हैं।

यह भी जान लें

फिजी में भारतीय लोगों की संख्या 44 प्रतिशत के करीब है। मतलब फिजी के मूल निवासियीं की संख्या के बराबर 1871 में मजदूर बनकर फिजी पहुंचे भारतीय भी फिजी के निवासी बन गए। ऐसे साथ ही हिन्दी भाषा अमेरिका में भी बोली जाती है। यहाँ भी भारतीय समुदाय का बड़ा हिसा रहता है।    

यह भी देखें- 

loading...