Breaking News
  • 1984 सिख दंगा मामला : कांग्रेसी नेता सज्जन कुमार दोषी करार
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भ्रष्टाचार मुक्त सरकार चल रही है: रक्षा मंत्री
  • राजस्थान : अशोक गहलोत मुख्यमंत्री और सचिन पायलट ने उप मुख्यमंत्री पद की शपथ ली
  • मालदीव के राष्ट्रपति इब्राहिम मोहम्मद सोलिह भारत दौरे पर
  • चक्रवाती तूफान Pethai Cyclone आज आंध्र प्रदेश के तट से टकराएगा

पोल-खोल: अमर सिंह ने जया और अग्रवाल दोनों की धज्जियां उड़ा दी...

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अपनी समाजवादी पार्टी से फिल्म अभिनेत्री और राज्यसभा सासंद जया बच्चन को फिर से राज्यसभा उम्मीदवार बनाया है। लेकिन अखिलेश के इस फैसले ने एक बार फिरे से सपा में संग्राम कि स्थिती पैदा कर दी है। इस क्रम में अपनी पार्टी सपा द्वारा राज्यसभा का टिकट पुन: नहीं मिलने से नाराज पार्टी नेता नरेश अग्रवाल ने अखिलेश की साइकिल से उतर कर सत्ताधारी बीजेपी का कमल थाम लिया है।

बीजेपी का कमल थामते ही अग्रवाल ने जया बच्चन को लेकर कहा कि, “जिस तरह से एक नाचने वाली के लिए मेरा टिकट काट दिया गया, उससे मैं बेहद दुखी हूं, लेकिन बीजेपी में शामिल होने का यह मतलब नहीं है कि मुझे राज्यसभा का टिकट चाहिए या फिर कोई और पद”। जया बच्चन को लेकर दिए गए अग्रवाल के इस बयान पर बीजेपी की वरिष्ठ महिला नेताओं ने साफ तौर पर कहा कि, “पार्टी में अग्रवाल का स्वागत है, लेकिन जया बच्चन पर दी गई टिप्पणी अस्वीकार्य है”।

हालांकि यह मामला अभी थमता नहीं दिख रहा, क्योंकि इसी मामले पर अब समाजवादी पार्टी से अलग हुए अमर सिंह ने भी जया बच्चन को लेकर बड़ा बयान दिया है, हालांकि इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा है कि नरेश अग्रवाल के मुकाबले जया बच्चन को टिकट दिया जाना मेरे ख्याल से बेहतर फैसला है।

पत्नी के लिए दामाद से ससुर को दी दर्दनाक मौत, और खुद ही पहुंचा...

वहीं अपने पुराने दिनों को याद करते हुए अमर सिंह ने कहा कि, “जया बच्चन को राज्यासभा में भेजा जाना इस बात को प्रमाणित करता है कि पूजा तो गणेश की ही होगी, जिसने तुम ही हो माता पिता तुम ही हो कहा, न की कार्तिके की जिसने पूरे संसार का चक्कर काट लिया”।

उन्होंने कहा कि, “जया बच्चन सपा में मेरे माध्यम से ही आई थीं, इससे से वह मना नहीं कर सकती, लेकिन जब हमारे उपर आफत आई तो हमें छोड़ मुलायम सिंह को पकड़ लिया और जब मुलायम पर आफत आई तो मुलायम को छोड़ अखिलेश यादव के दिलो की धड़कन और सपा के भी दिलो की धड़कन, हमारी पुत्रवधू डिंपल का दामन थाम लिया, ये बड़ी वरिष्ठ राजनीति है”।

अब बस! भारत में आ रहा है यह नया काननू- देश लूट कर भागने वालों की खैर नहीं

हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि, मैं यह मानता हूं कि नरेश अग्रवाल के मुकाबले सपा द्वारा जया बच्चन को चुनना मेरे लिए अच्छा है। मैं इससे काफी खुश हूं, क्योंकि नरेश अग्रवाल का टिकट कटना यानी राम गोपाल यादव का पर कटना”। सिंह ने ये बाते एक टीवी चैनल के सथ खास बातचीत में कहा है।

आपको बता दें कि अमर सिंह सपा से बाहर किए जाने को लेकर साफ तौर पर अखिलेश यादव के करीब रामगोपाल यादव पर हमला बोलते रहे हैं।

800 करोड़: विदेशी मेहमान के साथ बनारस पहुंचे मोदी ने दिया बड़ा तोहफा- जाने इन पैसों का क्या होगा...

loading...