Breaking News
  • कोलकाता में ममता की महारैली में जुटा मोदी विरोधी मोर्चा, केजरीवाल, अखिलेश समेत 20 दिग्गज नेता
  • कर्नाटक: रिसॉर्ट में ठहरे कांग्रेस विधायकों के बीच मारपीट
  • 2019 की लड़ाई लीडर्स और डीलर्स के बीच की लड़ाई है: भाजपा
  • पुणें में खेलों इंडिया यूथ गेम्स का समापन समारोह

AIMPLB ला रहा है कानून: नहीं बोल पाएगा कोई भी तलाक तलाक तलाक!

नई दिल्ली: केंद्र सरकार के बाद अब तीन तलाक की घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए आल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड भी बड़े कदम उठाने पर विचार कर रहा है। जहाँ सरकार इस दिशा में कड़ा कानून ला रही है वहीँ अब बोर्ड ने भी निकाह के समय ऐसी व्यवस्था करने पर सोच रहा है कि कोई भी आसानी से तलाक नहीं दे पाएगा।

बतादें कि मुस्लिम महिलाओं तलाक पर केंद्र सरकार कानून ला रही है। वहीँ अब ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड भी सी दिशा में आगे आकर इस कुप्रथा पर रोक लगाने के लिए बड़े कदम उठाने जा रहा है। बताया जा रहा है कि बोर्ड इस कुप्रथा को रोकने के लिए निकाहनामे में तलाक न देने संबंधी प्रावधान पर विचार कर रहा है। बोर्ड का कहना है कि वह तीन तलाक के खिलाफ है। हमेशा से पर्सनल लॉ में बदलाव नहीं लाने के लिए बोर्ड की आलोचना होती रहती है। लेकन इस बार माना जा रहा है कि बोर्ड इस दिशा में कोई कदम उठा सकता है।

बचपन में इतनी भद्दी दिखती थी HOT एक्ट्रेस दिशा पाटनी- खुद खोला राज...

बोर्ड के प्रवक्ता मौलाना खलील-उर-रहमान सज्जाद नोमानी ने इस बारे में कहा कि एक ही बार में तलाक देने के खिलाफ़ निकाहनामे में एक कॉलम दिया जाएगा, जिसमें निकाह करने वाले से एक ही बार में तलाक न देने का वचन लिया जायेगा। बोर्ड के सदस्य नोमानी ने बताया कि इस बारे में 9 फरवरी को बोर्ड की बैठक में कोई फैसला लिया जाएगा।

असम: मोदी ने किया GIS समिट का उद्घाटन, ऐसे मिलेगी चीन को मात!

अभी इसपर विचार ही चल रहा है। इस बैठक में तीन तलाक और दहेज जैसी कुप्रथाओं से निपटने के लिए अभियान की समीक्षा की जाएगी। वहीँ बोर्ड की इस पहले का ऑल इंडिया मुस्लिम विमिन पर्सनल लॉ बोर्ड और शिया बोर्ड ने भी स्वागत किया है। कहा जा रहा हैं कि सामाजिक द्रष्टि से अब मुस्लिम महिलाओं को इस कुप्रथा से आजाद कराने का वक्त आ गया है। साथ ही दूसरी ओर सरकार भी इस दिशा में कड़ा कानून ला रही है।

loading...