Breaking News
  • UPElection: 5वें चरण के लिए चुनाव-प्रचार का आज आखिरी दिन
  • जम्मू कश्मीर: शादियों में फिजूलखर्ची पर सरकार ने पेश किया लाई बिल- मेहमानों की संख्या के साथ कई नियम
  • MCD चुनाव के लिए आप पार्टी ने किया 109 उम्मीदवारों का ऐलान
  • इंफाल: पीएम मोदी की चुनावी सभा- मणिपुर में कांग्रेस रहने को अधिकारी नहीं
  • पूर्वी भारत के विकास के बिना भारत का विकास अधूरा- मोदी
  • कांग्रेस जो काम 15 साल में नहीं कर पाई, हम 15 महीनों में करेंग- मोदी
  • पुणे टेस्ट: 333 रन से हारी टीम इंडिया- दूसरी पारी में भी 107 पर ऑलआउट

500 और 1000 के नोट बंद होने के बाद इनकम टैक्स ने एक साथ देश के कई जगहों पर मारा छापा!


नई दिल्ली: भारत सरकार द्वारा मंगलवार को 500 और 1000 रुपये के पुराने नोटों पर बैन लगाने के फैसले के बाद आज गुरुवार से लोगों को पुराने नोटों के बदले 500 और 2000 रुपये के नए नोट देने की शुरुआत कर दी गई है।

सरकार के इस फैसल के बाद देश की जनता को थोड़ी परेशानियां जरूर हुई है, लेकिन लगभग सभी लोगों का मानना है कि सरकार का यह कदम बेहद ही प्रशंसनीय है। हालांकि इस फैसले पर कई ऐसे राजनीतिक दलों के नेता है जिन्होंने आपत्ती जताई है।

आपको बता दें कि सरकार ने यह फैसला काले धन पर लगाम लगाने की दिशा में लिया है। लेकिन सरकार के इस प्रयास को भी काले धन वाले विफल करने में लगे है। खबरों के अनुसार सरकार द्वारा आदेश जारी करने के बाद काले धन वाले अपन-अपने काले पैसे को सफेद करने के लिए तरह-तरह के हथकंडे अपनाने में लगे है।

इस बीच खबर है कि गुरुवार को इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने दिल्ली, मुंबई समेत कई शहरों में बड़े पैमाने पर छापेमारी की है। आईटी की छापेमारी अब भी जारी है, और इस क्रम में विभाग ने 500 और 1000 के नोट भारी मात्रा में बरामद किया है।

खबरें ऐसी भी है कि विभाग ने इस दौरान कई काले धन रखने वाले धुरंधरों को भी धर दबोचा है, हालांकि फिलहाल इस बात को लेकर कोई आधिकारिक बयान जारी नहीं किया गया है।