Breaking News
  • गुजरात: भुज में आपसी रंजिश में घर में लगाई आग, मां-बेटी की झुलसकर मौत
  • प्रधानमंत्री मोदी की अध्यक्षता में नीति आयोग गवर्निंग काउंसिल की चौथी बैठक
  • MP: शाजापुर में DJ की आवाज को लेकर दो समुदायों में झड़प, नियंत्रण में हालत
  • वेनेजुएला: कराकास में एक क्लब में आंसु गैस के स्टोरेज में विस्फोट, 8 नाबालिगों सहित 17 की मौत

'महागठबंधन' पर राहुल का बड़ा बयान, कौन होगा 2019 में इसका नेता?

मुंबई: भारतीय जनता पार्टी और केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ़ खड़े विपक्षी दलों के महागठबंधन पर कांग्रेस प्रमुख राहुल गांधी ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि यह महागठबंधन जनता की उम्मीदों पर बना है।

बतादें कि देश में बीजेपी और नरेंद्र मोदी के सामने कांग्रेस पहले से हार मान चुकी थी, जिसके बाद कांग्रेस सहित पूरी बीजेपी-नरेंद्र मोदी के विरोधियों ने महागठबंधन को खड़ा किया है। ऐसे में आगामी लोकसभा चुनाव में बीजेपी बनाम महागठबंधन की टक्कर होगी। वहीँ मंगलवार को कांग्रेस प्रमुख राहुल गाँधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भारतीय जनता पार्टी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का मुकाबला करने के लिए विपक्षी दलों के महागठबंधन को लेकर बड़ा बयान देते हुए कहा है कि इस महागठबंधन को जनता की भावना के आधार पर ही बनाया गया है। उन्होंने कहा कि जनता ने बीजेपी और नरेंद्र मोदी के जुमलों को जवाब देने के लिए महागठबंधन को समर्थन देने शुरू किया है और आगामी लोकसभा चुनाव में भी महागठबंधन ही रहेगा।

कर्नाटक: चल पड़ा कांग्रेस का विजय रथ, मिली लगातार दूसरी जीत

हालाँकि इस दौरान उनसे महागठबंधन के मुख्य नेता के बारे में पूछा गया तो वह जवाब देने से बचते दिखाई दिए। राहुल गाँधी ने कहा कि, ‘ऐसी भावना ना केवल बीजेपी विरोधी राजनीतिक दलों बल्कि जनता की भी है कि महागठबंधन बने जो बीजेपी, आरएसएस और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मुकाबला कर सके। आपको जानकारी के लिए बता दें कि पिछले उपचुनाव में कई सीटों पर महागठबंधन की जीत हुई है। इससे पहले महागठबंधन बिहार चुनाव के समय चर्चा में आया था।

मोबाइल से करते हैं पैसे का लेन-देन, तो हो जाइए सावधान!

तमाम मोदी लहर के बाद भी बिहार में (जेडीयू+आरजेडी+कांग्रेस) के बने महागठबंधन ने बड़ी जीत हासिल की थी। हालाँकि अब बिहार के इस महागठबंधन से जेडीयू अलग होकर बीजेपी के साथ सरकार बना चुकी है। लेकिन बिहार में महागठबंधन का प्रयोग सफल होने के बाद देशभर में इसे लागू किया जा रहा है।जिससे 2019 में बीजेपी और नरेंद्र मोदी का सामना किया जा सके।

यह भी देखें-

loading...