Breaking News
  • मालेगांव: 7 फरवरी को तय हो सकते हैं साध्वी प्रज्ञा, पुरोहित के खिलाफ आरोप
  • इराक की राजधानी बगदाद में एक साथ हुए दो आत्‍मघाती बम हमलों में 38 लोगों की मौत
  • अफगानिस्तान से बर्मा तक, तिब्बत से श्रीलंका तक सबका डीएनए एक: भागवत
  • काबुल: भारतीय दूतावास में गिरा रॉकेट, किसी के हताहत होने की कोई ख़बर नहीं

आतंक के साथ यहां हर मोड़ पर ‘मौत’ करती है आपका इन्तजार!

श्रीनगर: जम्मू कश्मीर में आतंक के साथ साथ हर मोड़ पर मौत आपका इन्तजार करती है। यहाँ जरा सी चूक का मतलब होता है, जान चली जाना। घाटी में आतंक के बाद दूसरा सबसे बड़ा ख़तरा दुर्गम इलाकों की मोड़ और खाई हैं। यहाँ बुधवार को भी एक हादसे ने 9 लोगों की जान ले ली।

घाटी में आतंकी के अलावा भी किसी की मौत का बड़ा कारण यहाँ के दुर्गम और मोड़दार इलाके हो सकते हैं। बुधवार सुबह जम्मू-कश्मीर के रियासी जिले में एक वाहन गहरी खाई में गिर गया। जिसमें नौ लोगों की मौत हो गई और छह अन्य घायल हो गए। स्थानीय पुलिस अनुसार यह दुर्घटना सुबह लगभग 8.45 बजे उस समय हई। बताया गया है कि मोड़ के साथ ही गहरी खाई थी, जब  चालक वाहन को मोड़ने का प्रयास कर रहा था, उसी दौरान उसने अपना नियंत्रण खो दिया, और वाहन गहरी खाई में जा गिरा।

वाहन के एक गहरी खाई में गिर जाने से सात लोगों की मौत हो गई और आठ अन्य घायल हो गए। घाटी में ऐसी घटनाएँ अक्सर होती रहती हैं, जहाँ ज़रा सी चूक में लोगों की जान जोखिम में पड़ जाती है। वहीँ इस घंटा के बाद राहत कार्य से लोगों के शवों को बाहर निकाला जा चुका है। इसी लिए कहा जा सकता है कि घाटी जितनी सुन्दर है उतनी ही कातिल भी है।

loading...