Breaking News
  • नागरिकों से अपील कि मुठभेड़ वाली जगहों से दूर रहें- सेना
  • दिल्ली में फिर 71 रुपये लीटर हुआ पेट्रोल, डीजल भी महंगा
  • मोदी ने छत्रपति शिवाजी को जयंती पर श्रद्धांजलि दी
  • प्रधानमंत्री का वाराणसी दौरा , कई करोड़ योजनाओं की दिया सौगात

मुठभेड़ में मारा गया ‘खूंखार कश्मीरी’, एक जवान भी शहीद

श्रीनगर: जम्मू एवं कश्मीर के पुलवामा जिले में मंगलवार को भी आतंकवादियों और सेना के बीच मुठभेड़ हुई है। अब तक मिली जानकारी के अनुसार मुठभेड़ में एक खूंखार आतंकी मारा गया, जबकि एक जवान शहीद हुआ है। हालांकि पहले दो जवानों के शहीद होने की खबर थी, लेकिन सेना ने खंडन करते हुए एक जवान की मौत की पुष्टि की है।

आतंकियों के खिलाफ सेना द्वारा चलाए गए अभियान के संबंध में जानकारी देते हुए रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता कर्नल राजेश कालिया ने बताया कि, रत्नीपोरा गांव में आतंकवादियों के खिलाफ अभियान समाप्त हो गया है। इस अभियान में एक आतंकवादी मारा गया और सेना का एक जवान शहीद हुआ है।

बताया जाता है कि रत्नीपोरा इलाके में मंगलवार को सुरक्षाबलों की मौजूदगी भांपते हुए आतंकवादियों ने गोलीबारी शुरू कर दी, जिसके बाद जवाबी कार्रवाई करते हुए जवानों ने भी गोलीबारी की और मुठभेड़ शुरू हो गई। गोलीबारी की इस घटना कुल तीन जवान घायल हुए है, जिन्हें सेना के अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

‘पहले राफेल डील भ्रष्टाचार का मामला था लेकिन अब ऑफिशियल सीक्रेट एक्ट का मामला है’

मुठभेड़ में मारे गए आतंकवादी के पास से हथियार भी बरामद किए गए हैं। मारे गए आतंकवादी की पहचान हिलाल अहमद राथर के तौर पर की गई है, जो कश्मीरी है और वह हिजबुल मुजाहिदीन संगठन का सक्रिय आतंकी बताया जाता है। बताया जाता है कि वह नावीद जाट को भगाने की कोशिश करते हुए सीसीटीवी फूटेज में कैद हो गया था।

 कार एक्सीडेंट में सुरेश रैना की मौत! सन्न रह गया पूरा परिवार

बता दें कि नावीद जाट वरिष्ठ कश्मीरी पत्रकार शुजात बुखारी की हत्या मामले में आरोपी था, जिसे पिछले दिनों बडगाम जिले में मार गिराया गया था। वहीं खबर है कि मुठभेड़ की खबर फैलते ही युवाओं ने अभियान को बाधित करने के लिए सुरक्षाबलों के साथ संघर्ष शुरू कर दिया। जिसके बाद जिले में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं निलंबित कर दी गई हैं। वहीं जम्मू क्षेत्र के बनिहाल और कश्मीर घाटी के बीच रेल सेवा भी एक दिन के लिए रोक दी गई है।

CBI के पूर्व अंतरिम निदेशक नागेश्वर राव को सुप्रीम कोर्ट ने दी ऐसी सजा… 

loading...