Breaking News
  • संसद के मॉनसून सत्र से पहले लोकसभाध्यक्ष ने बुलाई सर्वदलीय बैठक
  • गुजरात में बारिश से अबतक 28 की मौत, यूपी-एमपी में अलर्ट
  • मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाएगी टीडीपी, विपक्षी दलों से मांगा समर्थन
  • भारत-इंग्लैंड के बीच तीसरा और निर्णायक वनडे मैच

कड़ी सुरक्षा के बाद भी अमरनाथ यात्रा पर आया संकट, मुसीबत में हजारों तीर्थयात्री

श्रीनगर: अमरनाथ यात्रा पर आतंकी ख़तरा पहले से ही मंडरा रहा था, जिसको लेकर कड़ी सुरक्षा के इन्तेजाम किये गये है। लेकिन उसके बाद भी कुदरती आपदा के चलते अमरनाथ यात्रा प्रभावित हो गयी है। तीर्थ यात्रा के दौरान रास्ते में तेज बारिश शुरू हो गयी है।

बतादें कि अमरनाथ यात्रा पर निकले तीर्थ यात्रिओं को आतंकियों से बचाने के लिए सुरक्षा बल साए की तरह भले ही साथ चल रहे हो लेकिन उसके बाद भी तीर्थ यात्री आज मुसीबत में पड़ गये हैं। गुरुवार को जम्मू कश्मीर के बालटाल और पहलगाम दोनों बारिश शुरू हो गयी है। जिससे अमरनाथ यात्रा में बाधा पड़ गयी है। बताया जा रहा है बारिश के चलते दोनों मार्गों से अमरनाथ यात्रा रोक दी गई। गुरुवार को एक अधिकारी ने बताया, 'गुरुवार तड़के से बालटाल और पहलगाम दोनों मार्गों पर बारिश हो रही है।

यूपी: संत कबीर की शरण में पीएम मोदी, मजार पर चढ़ाएंगे चादर

बालटाल और नुनवन (पहलगाम) के आधार शिविरों में डेरा डाले तीर्थयात्रियों को मौसम में सुधार तक आगे नहीं बढ़ने की हिदायत दी है।' बारिश के कारण मार्गों पर भूस्खलन का खतरा बढ़ गया है। ऐसे में तीर्थ यात्रियों की सुरक्षा के लिए यह कदम उठाया गया है। अधिकारी ने आगे कहा कि, सभी तीर्थयात्री सुरक्षित है और यात्रा आगे बढ़ाने का फैसला बाद में दिया जाएगा।'

शर्मिंदा करने वाली रिपोर्ट पर मोदी सरकार की सफाई, हम नहीं मानते आंकड़े...

बुधवार तडके ही जम्मू के भगवती नगर आधार शिविर से अमरनाथ यात्रा के लिए श्रद्धालुओं का पहला जत्था श्रीनगर के लिए रवाना हो हुआ था। यह जत्था गुरुवार को बाबा बर्फानी की गुफा में पवित्र शिव लिंग का दर्शन करने के लिए पहुँचने वाला था, लेकिन गुरुवार को शुरू हुई बारिश ने तीर्थ यात्रियों को आगे बढने से रोक दिया है। अमरनाथ यात्रा के लिए रवाना हुये पहले जत्थे में "3,425 तीर्थयात्रियों शामिल हैं। जिसमें 2,679 पुरूष और 592 महिलाएं, 151 साधु तीन बच्चे भी शामिल हैं।

यह भी देखें-

 

loading...