Breaking News
  • संसद के मॉनसून सत्र से पहले लोकसभाध्यक्ष ने बुलाई सर्वदलीय बैठक
  • गुजरात में बारिश से अबतक 28 की मौत, यूपी-एमपी में अलर्ट
  • मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाएगी टीडीपी, विपक्षी दलों से मांगा समर्थन
  • भारत-इंग्लैंड के बीच तीसरा और निर्णायक वनडे मैच

अमरनाथ यात्रा से आई बुरी खबर, रोक दी गई यात्रा!

जम्मू: जम्मू-कश्मीर में इन दिनों अमरनाथ यात्रा जारी है, 28 जून से शुरू हुई यात्रा के तहत अब तक 60 हजार से अधिक तीर्थयात्री यात्रा कर चुके हैं। हालांकि करीब एक हप्ते के अंदर कई बार यात्रा में कई तरह की परेशानिया भी आई, लेकिन इसके बाद भी तीर्थयात्री बुलंद हैसले के साथ यात्रा पर रवाना हो रहे हैं।

एक ओर अमरनाथ यात्रियों पर आतंकी हमले के खतरे को भांपते हुए भारी सुरक्षा के बीच लोगों को यात्रा पर भेजा जा रहा है, वहीं आय दिन रूक-रूक हो रही तेज बारिश भी यात्रा में खलल डाल रही है। इस बीच खराब मौसम के कारण गुरुवार को भी यात्रा रोक दी गई है।

भयंकर हादसे में जिंदा जल गए 10 लोग

प्राप्त जानकारी के अनुसार, जम्मू से किसी भी तीर्थयात्री को घाटी की ओर जाने की इजाजत नहीं दी गई। पुलिस के अनुसार, मंगलवार को बालटाल ट्रैक पर हुए भूस्खलन के बाद बुधवार से ही किसी भी तीर्थयात्री को भगवती नगर यात्री निवास से रवाना नहीं होने दिया गया।

अधिकारियों के अनुसार, बालटाल और पहलगाम आधार शिविरों से अमरनाथ गुफा की ओर सीमित हेलीकॉप्टर सेवाएं ही हैं। आपको बता दें कि इससे पहले भी बारिश के कारण कई बार यात्रा रोकी गई है। गौरतलब हो कि हिन्दुओं का एक प्रमुख तीर्थस्थल अमरनाथ जम्मू-कश्मीर की राजधानी श्रीनगर से उत्तर-पूर्व में स्थित है।

कैंसर की बिमारी से पीड़ित हैं सोनाली बेंद्रे, हो चुकी हैं न्यूयॉर्क रवाना

भगवान शिव के प्रमुख धार्मिक स्थलों में से एक अमरनाथ गुफा है जिसको लेकर लोगों की मान्यता है कि यहीं पर भगवान शिव ने माँ पार्वती को अमरत्व का रहस्य बताया था। यहां लाखों की संख्या में तीर्थयात्री भगवान शिव के दर्शन को पहुंचते हैं।

loading...