Breaking News
  • सोनभद्र जमीन मामले में अब तक 26 आरोपी गिरफ्तार, प्रियंका करेंगी मुलाकात
  • वेस्टइंडीज दौरे के लिए रविवार को 11:30 बजे होगा टीम इंडिया का चयन
  • बिहार : बाढ़ से अब तक 83 लोगों की मौत
  • कर्नाटक में आज दोपहर डेढ़ बजे तक सरकार को साबित करना होगा बहुमत

84 साल के दलाई लामा को चाहिए आकर्षक महिला उत्तराधिकारी, जानिए क्यों

उम्र करीब 84 साल, पहचान आध्यात्मिक धर्मगुरू दलाई लामा और विवाद महिला उत्तराधिकारी के तौर पर आकर्षक महिला की चाहत। ये कहानी है विश्व विख्यात आध्यात्मिक धर्मगुरू दलाई लामा की... अपने 84 साल के जीवन काल में न जाने कितने असहाय लोगों का सहारा बने लामा, धर्म और आध्यात्म के रास्ते पर चलते हुए प्रेरक उदगारों के जरिए लाखों लोगों को बेहतर जीवन के लिए प्रेरित किया, उनके जीवन को नई दिशा दी। लेकिन उम्र के उच्च पड़ाव पर आकर उन्होंने एक ऐसा बयान दिया, जिसके कारण वह सामाजिक आलोचकों के रडार पर आ गए।

84 साल के आध्यात्मिक धर्मगुरू दलाई लामा अपने उत्तराधिकारी लामा को लेकर 2015 में कहा था कि अगर मेरे बाद कोई महिला दलाई लामा बनती है तो उस महिला को आकर्षक होना चाहिए। हालांकि उन्होंने ऐसा क्यों कहा, इसपर उन्होंने सफाई भी दी है, जिससे शायद आप सहमत हो, या न भी हो। लेकिन ऐसे दौर में जब दुनिया के अधिकांश लोग उन्हें एक आम मानव न समझकर अलौकिक इंसान के तौर पर देखते हैं, पहली बार में उनके मुख से ऐसे शब्द अशोभनीय दिखते हैं। लेकिन अपने कथन के एवज में उन्होंने कुछ तर्क भी दिये हैं।

आकर्षक महिला उत्तराधिकारी पर मचे घमासान के बाद भी दलाई लामा अपने उस बयान पर कायम है। अपने कथन को प्रमाणित करते हुए लामा कहते हैं, जितना दिमाग का महत्व है उतना ही महत्व खूबसूरती का भी है। चेहरे पर अपार खुशी के साथ सधे हुए लहजे में लाबा आगे कहते हैं, अगर कोई महिला दलाई लामा बनती है तो उसे कहीं ज्यादा आकर्षक होना चाहिए।

ऐसा इसलिए क्योंकि अगर कोई महिला लामा आती हैं और वो खुश दिखती हैं तो उन्हें देखकर लोग भी खुश होंगे, लेकिन अगर कोई ऐसी महिला लामा बनती है जो दुखी दिखती हैं तो लोग उन्हें देखकर नाराज हो सकते हैं, लोग उन्हें देखना पसंद नहीं करेंगे।

पथम दृष्टया लांबा के ये वक्तव्य महिलाओं को अपमानित करता है, लेकिन दलाई लामा के अनुसार, ऐसा कहना गलत है। क्योंकि असली खूबसूरती मन की खूबसूरती है और यही परम सत्य है। लेकिन लामा समझते है कि मन की खूबसूरती के साथ-साथ आकर्षक दिखना भी जरूरी है।

आपको बता दें कि भले ही लाबा के ये कथन उनके अनुसार सत्य हैं, लेकिन समाज मे उनके इस कथन की काफी आलोचना हो चुकी है और हो भी रही है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि दलाई लामा तिब्बती धर्मगुरु हैं, जिनका जुड़ाव बौद्ध धर्म से हैं और इनके जड़ चीन से जुड़े है, लेकिन उनका अधिकांश वक्त भारत में बीतता है। आप माने या न माने लेकिन आप इस बात से इत्तेफाक रख सकते हैं कि दलाई लामा आज के युग में दुनिया के सबसे चर्चित लोगों में से एक हैं, जिन्हें एक प्रकार से अध्यात्मिक दुनिया का सुपरस्टार भी कहा जा सकता है।

loading...