Breaking News
  • दिल्लीः पूर्व भाजपा अध्यक्ष मांगेराम गर्ग का निधन
  • पूर्व मुख्यमंत्री और दिल्ली कांग्रेस की अध्यक्ष शीला दीक्षित का दिल्ली में अंतिम संस्कार
  • महेंद्र सिंह धोनी ने वापस लिया वेस्टइंडीज़ दौरे से नाम
  • भारतीय एथलीट हिमा दास ने 400 मीटर रेस में मारी बाजी, एक महीने में 5वां गोल्ड मेडल

विरोधी तो विरोधी ट्रंप को अपनों से भी नहीं मिला साथ, फैसले के खिलाफ प्रस्ताव पारित

नई दिल्ली: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को एक बार फिर से अमेरिकी सीनेटर्स ने बड़ा झटका दिया है। दरअसल, सीरिया और अफगानिस्तान से सैनिकों को वापस बुलाने के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के फैसले के खिलाफ भारी बहुमत से एक महत्वपूर्ण प्रस्ताव पारित किया है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार इस प्रस्ताव के पक्ष में सिर्फ ट्रंप विरोधियों सीनेट ने ही नहीं बल्कि उनका समर्थन वाली रिपब्लिकन पार्टी के सांसदों ने भी मतदान किया है। रिपोर्ट के अनुसार, सीनेट में रिपब्लिकन नेता मिच मैककॉनेल ने सदन के पटल पर प्रस्ताव को रखा।

दुनिया का पहला ऐसा फोन जिसका कैमरा स्क्रीन के अंदर है, जानिए कीमत और अन्य फीचर्स

उन्होंने पिछले सप्ताह कहा था कि इस प्रस्ताव में ‘‘उस स्पष्ट तथ्य को स्वीकार किया जाएगा कि सीरिया और अफगानिस्तान में अल-कायदा, आईएसआईएस और उनसे सम्बद्ध संगठन हमारे राष्ट्र के लिए गंभीर खतरा बने हुए हैं।’’  यह प्रस्ताव भारी बहुमत से पारित हुआ।

 

प्रस्ताव के पक्ष में 70 मत पड़े जबकि विरोध में 26 मत पड़े। सदन के 53 रिपब्लिकन सीनेटरों में से सिर्फ तीन ने ही इसका विरोध किया। इस प्रस्ताव के अनुसार, दोनों में से किसी भी देश से सेना को वापस बुलाने पर हम बड़ी मुश्किल से हाथ आयी सफलता गवां सकते हैं और यह अमेरिका की राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरनाक साबित हो सकता है।

अंतिम सांस ले रही है अंबानी की R-Com, जानिए 792 रुपये से लेकर 6 रुपये …

इससे पहले ट्रंप ने दिसंबर में अपने एक ट्वीट के माध्यम से 2,000 अमेरिकी सैनिकों को सीरिया से वापस बुलाने की बात कहते हुए तर्क दिया था कि इस्लामिक स्टेट समूहों पर जीत पा लिया गया है। लेकिन पिछले हफ्ते अमेरिकी खुफिया प्रमुखों की ओर से सूचना दी गई कि जिहादी समूह अब भी गंभीर खतरा बने है और फिर से अपना पांव पसारने के फिराक में हैं।

loading...