Breaking News
  • जो राम का नहीं, वो किसी काम का नहीं-धमतरी में CM योगी
  • दौसा के बीजेपी सांसद हरीश मीणा कांग्रेस ज्वॉइन करेंगे
  • गहलोत बोले, मैं और सचिन पायलट मिलकर लड़ेंगे चुनाव
  • SC ने प्रशांत भूषण से कहा, कोर्ट में उतना ही बोलें जितना ज़रूरी हो

गणतंत्र दिवस में नहीं शामिल होंगे अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप, बताया ये अहम वज़ह

नई दिल्ली : राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप अगले साल गणतंत्र दिवस परेड के मुख्य अतिथि के रूप में भाग नहीं लेंगे। जिसका प्रमुख कारण उन्होंने अपना बिजी शेड्यूल बताया है। आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले साल वॉशिंगटन में वार्ता के दौरान ट्रंप को भारत आने का निमंत्रण दिया था। ह्वाइट हाउस की प्रेस सचिव सारा सैंडर्स ने जुलाई में कहा था कि ट्रंप को भारत आने का निमंत्रण मिला है लेकिन अभी इस मामले में कोई निर्णय नहीं लिया गया हैं।

बड़ी खबर : भारतीय सेना के अचानक हमले से पाक हुआ परेशान, उड़ाये कई आतंकी ठिकाने : देखिए वीडियो

मोदी के निमंत्रण पर ट्रंप के फैसले के बारे में पूछे जाने पर ह्वाइट हाउस की प्रवक्ता ने सोमवार को कहा, 'राष्ट्रपति ट्रंप 26 जनवरी 2019 को भारत की गणतंत्र दिवस परेड के मुख्य अतिथि के तौर पर बुलाए जाने के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निमंत्रण को पाकर सम्मानित महसूस करते हैं लेकिन वह पूर्व निर्धारित कार्यक्रमों के कारण इसमें भाग लेने में असमर्थ हैं।' ऐसा कहा जा रहा है कि जब भारत गणतंत्र दिवस मनाएगा उसी समय ट्रंप अमेरिकी कांग्रेस के दोनों सदनों को वार्षिक स्टेट ऑफ यूनियन (एसओटीयू) संबोधन के तहत संबोधित कर सकते हैं।

सेना प्रमुख बिपिन रावत ने दी पाकिस्तान को सख्त चेतावनी, घुसपैठ रोके वरना...

आमतौर पर एसओटीयू संबोधन जनवरी के अंतिम सप्ताह या फरवरी के पहले सप्ताह में होता है। प्रवक्ता ने कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति व मोदी के बीच निजी घनिष्ठ संबंध हैं और ट्रंप भारत-अमेरिका रिश्ते को मजबूत बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं। प्रवक्ता ने कहा, 'राष्ट्रपति की दो बैठकों व फोन पर कई बार बातचीत के जरिए प्रधानमंत्री मोदी से निजी घनिष्ठता बनी और वह अमेरिका-भारत कूटनीतिक साझेदारी मजबूत करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।' उन्होंने कहा, 'राष्ट्रपति जल्द से जल्द एक बार फिर पीएम मोदी से मिलने की उम्मीद करते हैं।' मोदी और ट्रंप के 30 नवंबर और एक दिसंबर को अर्जेंटीना में जी-20 शिखर सम्मेलन में भाग लेने का कार्यक्रम है। दोनों नेताओं के वहां मुलाकात करने और द्विपक्षीय संबंधों पर चर्चा करने की संभावना है।

रूस से s-400 के बाद अब भारत ने की इजरायल से बड़ी डील, इजरायल ने कहा...

loading...