Breaking News
  • हैदराबाद: नानकरामगुड़ा इलाके में एक 7 मंजिला इमारत गिरी
  • कोहरे की वजह से रेल और हवाई यातायात बाधित, 56 ट्रेन रद्द, हवाई यात्रा पर असर
  • पृथ्वी की कक्षा में जाने वाले पहले अमेरिकी अंतरिक्ष यात्री जॉन ग्लेन का निधन
  • जूनियर वर्ल्ड कप हॉकी में भारत का शानदार आगाज, कनाडा को 4-0 से हराया
  • J-K: अनंतनाग में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़

ट्रंप के बयानों से 30 लाख प्रवासियों की धड़कन तेज!

वाशिंगटन: पिछले दिनों ने अमेरिका ने राष्ट्रपति चुनाव के तहत दुनिया के सबसे शक्तिशाली नेता और अमेरिकी राष्ट्रपति के रुप में डोनाल्ड ट्रंप का चुनाव किया है। हालांकि चुनाव जीतने के बाद अमेरिका का एक तबका ऐसा भी है, जो सड़क पर उतर कर ट्रंप का विरोध कर रहा है।

चुनाव प्रचार के दौरान दिए गए विवादित बयानों के कारण ट्रंप की काफी आलोचनाएं हुई, इस बीच वह आय दिन सुर्खियों में बने रहे। हालांकि चुनाव जीतने के बाद ट्रंप ने अपने रुख में बदलाव करते हुए कहा था कि वह सभी अमेरिकियों के राष्ट्रपति है।

लेकिन ट्रंप ने अपने एक बयान में फिर से कहा कि वह बिना वैध दस्तावेज वाले प्रवासियों को देश से बाहर निकाल देंगे, जिनके खिलाफ अपराधिक रिकॉर्ड हैं। ट्रंप के इस बयान के बाद यहां ऐसे करीब 30 लाख लोग है, जिनपर ट्रंप की तलवार चलाई जा सकती है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार ट्रंप ने कहा कि वह अपराधिक रिकॉर्ड वाले लोग,  गैंग और मादक पदार्थों के व्यापारियों को देश से बाहर का रास्ता दिखा देंगे, या फिर उन सभी लोगों को जेल में डाल देंगे। उन्होंने बताया कि फिलहला हमारे देश मे ऐसे लोगों की संख्या करीब 20 से 30 लाख के आसपास है।

उन्होंने कहा कि हम ऐसे लोगों को देश से बाहर कर देंगे, जो अवैध रुप से यहां रह रहे है। ट्रंप ने कहा कि वह पहले देश की सीमा को सुरक्षित करेंगे और उसके बाद इस बात का फैसला लेंगे कि अवैध रुप से रह रहे प्रवासियों के साथ क्या किया जाए।