Breaking News
  • यूपी: टूंडला स्टेशन के पास कालिंदी एक्सप्रेस पटरी से उतरी, बीती रात 1:40 बजे हुआ यह हादसा
  • आज से बैंक खाते से निकाले जा सकेंगे 50 हजार रुपये, 13 मार्च से कैश निकासी की कोई सीमा नहीं
  • आज उत्तर प्रदेश में फूलपुर और जालौन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चुनावी रैली
  • सऊदी अरब: पहली बार महिला को बनाया गया शेयर बाजार का प्रमुख और दैनिक अखबार का मुख्य संपादक
  • सराह अल-सुहैमी सऊदी शेयर बाजार की प्रधान और पत्रकार सोमाया जबराती बनी मुख्य संपादक

ट्रंप के बयानों से 30 लाख प्रवासियों की धड़कन तेज!


वाशिंगटन: पिछले दिनों ने अमेरिका ने राष्ट्रपति चुनाव के तहत दुनिया के सबसे शक्तिशाली नेता और अमेरिकी राष्ट्रपति के रुप में डोनाल्ड ट्रंप का चुनाव किया है। हालांकि चुनाव जीतने के बाद अमेरिका का एक तबका ऐसा भी है, जो सड़क पर उतर कर ट्रंप का विरोध कर रहा है।

चुनाव प्रचार के दौरान दिए गए विवादित बयानों के कारण ट्रंप की काफी आलोचनाएं हुई, इस बीच वह आय दिन सुर्खियों में बने रहे। हालांकि चुनाव जीतने के बाद ट्रंप ने अपने रुख में बदलाव करते हुए कहा था कि वह सभी अमेरिकियों के राष्ट्रपति है।

लेकिन ट्रंप ने अपने एक बयान में फिर से कहा कि वह बिना वैध दस्तावेज वाले प्रवासियों को देश से बाहर निकाल देंगे, जिनके खिलाफ अपराधिक रिकॉर्ड हैं। ट्रंप के इस बयान के बाद यहां ऐसे करीब 30 लाख लोग है, जिनपर ट्रंप की तलवार चलाई जा सकती है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार ट्रंप ने कहा कि वह अपराधिक रिकॉर्ड वाले लोग,  गैंग और मादक पदार्थों के व्यापारियों को देश से बाहर का रास्ता दिखा देंगे, या फिर उन सभी लोगों को जेल में डाल देंगे। उन्होंने बताया कि फिलहला हमारे देश मे ऐसे लोगों की संख्या करीब 20 से 30 लाख के आसपास है।

उन्होंने कहा कि हम ऐसे लोगों को देश से बाहर कर देंगे, जो अवैध रुप से यहां रह रहे है। ट्रंप ने कहा कि वह पहले देश की सीमा को सुरक्षित करेंगे और उसके बाद इस बात का फैसला लेंगे कि अवैध रुप से रह रहे प्रवासियों के साथ क्या किया जाए।