Breaking News
  • मालेगांव: 7 फरवरी को तय हो सकते हैं साध्वी प्रज्ञा, पुरोहित के खिलाफ आरोप
  • इराक की राजधानी बगदाद में एक साथ हुए दो आत्‍मघाती बम हमलों में 38 लोगों की मौत
  • अफगानिस्तान से बर्मा तक, तिब्बत से श्रीलंका तक सबका डीएनए एक: भागवत
  • काबुल: भारतीय दूतावास में गिरा रॉकेट, किसी के हताहत होने की कोई ख़बर नहीं

पीएम मोदी से प्रभावित होकर संयुक्त राष्ट्र महासचिव ने किया है यह फैसला!

नई दिल्ली: भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले दिनों इस्राइल का ऐतिहासिक दौरा किया, पीएम मोदी के इस दौरे की चर्चा देश अलावा पूरी दुनिया में हुई, क्योंकि नरेंद्र मोदी देश के पहले ऐसे प्रधानमंत्री थे जिन्होंने इस्राइल का आधिकारिक दौरा किया और दोनों देशों के बीच के संबंधों को एक नए आयाम पर ले गए।

मोदी के ऐतिहासिक दौरे के बाद अब खबर है कि संयुक्त राष्ट्र महासचिव का पदभार संभालने के बाद एंतोनियो गुतारेस भी पहली बार गाजा पट्टी सहित इस्राइल और फलस्तीन क्षेत्रों के दौरे पर रवाना हो रहे हैं। मीडिया रिपोर्टस के अनुसार गुतारेस इस महीने के अंत तक अपने इस दौरे पर रवाना हो सकते हैं।

इस दौरे के दौरान संयुक्त राष्ट्र के प्रमुख इस्राइल के नेताओं के साथ बातचीत करेंगे। इसके अलावा वह फलस्तीनी नेता महमूद अब्बास से मिलने रामल्लाह और गाजा पट्टी का दौरा भी करेंगे। गाजा पट्टी में संयुक्त राष्ट्र एक बड़ा फलस्तीनी सहायता कार्यक्रम चलाता है। बताया जा रहा है कि महासचिव का तीन दिवसीय दौरा 28 अगस्त से शुरू होगा।

इस दौरे को लेकर संयुक्त राष्ट्र में इस्राइल के राजदूत डैनी डेनन के हवाले से बताया जा रहा है कि इससे गुतारेस को प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के साथ संबंधों को विकसित करने का मौका मिलेगा। बता दें कि अपने दौरे के क्रम में गुतारेस इस्राइल के राष्ट्रपति और रक्षा मंत्री के साथ भी बैठक करेंगे।

loading...