Breaking News
  • मोदी की बंपर जीत पर राहुल गांधी ने दी शुभकामनाएं
  • अमेठी सीट से हारे राहुल गांधी, वायनाड से मिली जीत
  • मोदी ने अपने समर्थकों के साथ सरकार बनाने का दावा पेश किया
  • सर्वसहमति से NDA विधायक दल के नेता चुने गए नरेंद्र मोदी
  • राहुल गांधी ने CWC के सामने इस्तीफे की पेशकश की, लेकिन सदस्यों ने ठुकराया: कांग्रेस
  • अमेठी में स्मृति ईरानी के करीबी कार्यकर्ता सुरेंद्र सिंह की गोली मारकर हत्या
  • चार धाम यात्रा: छह महिने के बाद खुले केदारनाथ धाम के कपाट, कल खुलेंगे बद्रीनाथ के कपाट
  • वो (ममता) अब मेरे लिए पत्थरों और थप्पड़ों की बात करती हैं: मोदी
  • पश्चिम बंगाल के बांकुरा में पीएम मोदी की चुनावी रैली, ममता पर बोला हमला
  • लोकसभा चुनाव 2019: NDA को प्रचंड बहुमत, 300 से अधिक सीटों पर बीजेपी की जीत
  • 24 मई: आज भंग हो सकती है 16वीं लोकसभा, पीएम मोदी की अध्यक्षता में केन्‍द्रीय मंत्रिमंडल की बैठक

संसद जाने को बेताब आतंकी हाफिज: लोकसभा चुनाव में उतारेगा 200 उम्मीदवार?

इस्लामाबाद: पाकिस्तानी की सियासत में एक ऐसे आतंकी की एंट्री हो गयी है। भारत सहित कई देश सकते में है। वहीँ पाकिस्तान की सरकार, सुप्रीम कोर्ट तक उस आतंकी का कुछ नहीं कर पा रहा है।

बतादें कि मुम्बई हमलों का मास्टरमाइंड आतंकी हाफिज सईद आगामी आम चुनाव में उतरने की तैयारी कर चुका है। आतंकी हाफिज सईद के संरक्षण में चलने वाले मिल्ली मुस्लिम लीग यहाँ होने वाले लोकसभा चुनाव में अपने उम्मीदवार उतरा रही है। जिसकी जानकारी पार्टी के प्रवक्ता ने एक न्यूज़ एजेंसी को देते हुए कहा कि, 'हां हम लोकसभा चुनाव में आ रहे हैं। हम कई दलों के साथ मिलकर चुनाव लड़ेंगे, पार्टी ने अभी 200 शिक्षित उम्मीदवारों को चुनाव है'।

EVM खराबी: जांच रिपोर्ट में हुआ चौंकाने वाला खुलासा

वहीँ आतंकी संगठन जमात उद दावा के संरक्षण की परती का चुनाव मैदान में उतरना भारत जैसे देश के लिए लजूली आनंखों से बुरा सपना देखना जैसा ही होगा। हालाँकि इस चुनाव में वह खुद मैदान में नहीं उतरेगा। लेकिन उसकी पार्टी मैदान में उतरकर संसद पहुँचने के लिए बेताब है। पार्टी के एक प्रवक्ता अहमद नदीम ने एजेंसी को बताया है कि कहा, ‘एमएमएल अध्यक्ष सैफुल्ला खालिद और एएटी प्रमुख अहमद बरी आगामी चुनावों में एएटी के मंच पर संयुक्त रूप से उम्मीदवार उतारने पर सहमति जताई है।

बुरी फंसी कांग्रेस: तेल की कीमतों का किया विरोध तो दर्ज हो गयी एफआईआर!

जिसके बाद सभी मिलकर 200 सीटों पर शिक्षित युवओं को मैदान में उतारा जाएगा। वहीँ आतंकी हाफिज सईद की राजनीति में एंट्री और उनकी पार्टी का चुनव लड़ना भारत के लिए शुभ संकेत नहीं है। जहाँ पहले से ही आतंकी हाफिज सईद पर अमेरिका ने आतंकी गतिविधियो में लिप्त होने के कारण एक करोड़ डॉलर का इनाम रखा गया। साथ ही आतंकी सईद भारत को लेकर हमेशा से विवादित बयान देता रहा है। ऐसे में अगर वह पाकिस्तान की राजनीति में सक्रीय होता है तो यह भारत के लिए अच्छा नहीं होगा।     

यह भी देखे-

loading...