Breaking News
  • देश का विदेशी पूंजी भंडार 1.50 अरब डॉलर बढ़ा
  • रॉबर्ट वाड्रा से धनशोधन मामले में 7 घंटे तक पूछताछ
  • मप्र में किसान कर्ज माफी की शुरुआत, 50 लाख किसानों का होगा कर्ज माफ
  • जम्मू-कश्मीर में जमात-ए-इस्लामी सरगना समेत 12 हिरासत में

आतंक की ‘दुकानें’ बंद होने से हाफिज का बिगड़ा मानसिक संतुलन!

इस्लामाबाद: मुंबई हमलों के मास्टरमाइंड आतंकी हाफिज सईद के खिलाफ पाकिस्तान में दो दिनों में लगातार हुए कड़ी कार्रवाई से आतंकी सईद का मानसिक संतुलन बिगड़ गया है। पहले पाकिस्तान के राष्ट्रपति द्वारा उसके संगठन को आतंकी घोषित किया गया, फिर पंजाब प्रांत की सरकार द्वारा उसके कई मदरसों को अपने नियंत्रण में ले लिया गया है।     

बतादें कि भारत और अमेरिका के दवाब में आकर पाकिस्तान ने जमात उद दावा के प्रमुख और मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद के खिलाफ कड़ा एक्शन लेना शुरू किया है। वहीँ अपने खिलाफ़ होने वाली कार्रवाई पर बौखलाए आतंकी सईद ने इसे अवैध कार्रवाई बताते हुए कोर्ट जाने की धमकी दी है। अपने समूह को आतंकी घोषित किये जाने और समूहों को सरकार द्वारा नियंत्रण में लिए जाने पर हाफिज से कोर्ट में चुनौती देने की बात की है।

दिल्ली और मुंबई में गांजा पीने की लगी होड़, ऐसे हुआ खुलासा

आतंकी सईद ने कहा कि 'बिना किसी कानूनी आधार के मुझे 10 महीने तक हिरासत में रखने के बाद, सरकार अब हमारे स्कूलों, डिस्पेंसरी, ऐंबुलेंस और अन्य संपत्तियों को नियंत्रण में ले रही है। यह सरासर अनुचित है। आतंकी सईद ने कहा कि यह सारी कार्रवाई दवाब में आकर की जा रही है। सईद को अपनी आतंक की दूकान बंद होने का बड़ा ख़तरा मंडरा रहा है।

पूरा डेढ़ घंटा लापता रही गरीब रथ, मिली तब इस हालत में थी!

मंगलवार को ही पाकिस्तान के राष्ट्रपति ममनून हुसैन ने एक अध्यादेश पर साइन किये थे, जिसमें जमात उद दावा को आतंकी संगठन घोषित किया गया है। वहीँ दुसरे दिन बुधवार को पाकिस्तान के पंजाब प्रांत की सरकार ने आतंकी सईद के कई मदरसों और स्वास्थ्य केन्द्रों को नियंत्रण में लेना शुरू कर दिया है। यह कार्रवाई पाक गृह मंत्रालय की अधिसूचना के आधार पर की जा रही है। पाकिस्तान के गृहमंत्रालय ने 10 फ़रवरी को अधिसूचना जारी की थी।

यह भी देखें-

loading...