Breaking News
  • आज शाम 6 बजे तक खत्म हो सकता है कर्नाटक का नाटक, कुमारस्वामी करेंगे फ्लोर टेस्ट
  • बिहार के दरभंगा में अभी भी बाढ़ से राहत नहीं, लोगों ने सड़क पर ठिकाना
  • आज होगा ब्रिटेन के अगले प्रधानमंत्री का चयन
  • बीजेपी संसदीय दल की बैठक के बाद, पीएम मोदी कर सकते हैं सांसदों को संबोधित

15 साल की उम्र में निहाद के पेट में पल रहा था IS आतंकियों का पाप- आपबीती सुन कलेजा काप उठा !

नई दिल्ली: आईएसआईएस आतंकियों की चंगुल से बच निकले में कामयाब हुए एक 18 साल की लड़की की आपबीती सुनकर हर इंसान का दिल पसीज गया और कलेजा कांप उठा। इस लड़की ने बताया कि उसके पेट में आतंकियों का पाप पल रहा था, जिसे वह गर्भपात कराना चाहती थी।

आईएसआईएस आतंकियों की चंगूल से आजाद हुई 18 साल निहाद बकरत ने बताया कि जब वो 15 साल की थी तो, उन्हें साल 2014 में उत्तर पश्चिमी इराक के सिन्नर स्थित उनके घर से ही अगवा कर लिया गया था। निहाद के साथ-साथ उनके परिवार के 27 अन्य सदस्यों को भी आतंकियों ने अगवा कर लिया था।

ये भी पढ़ें: मां-बेटी दोनों के साथ रेप करता पकड़ा गया बाप- कई सालों से कर रहा था हैवानियत, अब हुआ ये हश्र !

उन्होंने बताया कि आईएस आतंकियों ने उनके साथ बलात्कार किया इसी बीच उन्के पेट में आतंकियों का एक बच्चा पलने लगा, जिसके जन्म के बाद वह बच निकली और अब वह ऑस्ट्रेलिया में नए सिरे से अपने जीवन की शुरुआत करना चाहती हैं।

ये भी पढ़ें: गुड़गांव: निर्भया गैंगरेप जैसे मामले के बाद चलती कार में नॉर्थ ईस्ट की लड़की से गैंगरेप कर सड़क पर फेंका !

निहाद के अनुसार अपहरण करने के बाद आतंकियों ने उन लोगों को इराक वापस  लाया और उन्हें शादी के लिए मोसुल के एक जिम में भेज दिया, इस दौरान शादा से इनकार करने पर उनकी पिटाई की गई और उनके साथ बलत्कार भी किया गया।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार निहाद ने कहा कि बलात्कार के एक महीने बाद जब वह गर्भवती हुई तो ऐसा लगा कि मैं एक छोटे आईएसआईएस को जन्म देने की तैयारी में हूं। इसके बाद उसने कई बार बच्चे का गर्भपात करने का प्रयास किया, लेकिन सफल नहीं हुई, और उसने एक लड़के को जन्म दिया, जिसका नाम ईसा है।

ये भी पढ़ें: तस्वीरें खुद ही बोलती है- मुंबई एयरपोर्ट पर अपने बच्चों के साथ ‘कैद’ हुए किंग खान !

निहाद के अनुसार वो तीन महिने बाद बचने में तब कामयाब हुई जब उसके बच्चे के पिता ने कहा कि वो ईसा को छोड़ कर उसके चचेरे भाई से शादी कर ले। उन्होंने कहा कि ईसा मेरा बच्चा है लेकिन वो उन अपराधियों को प्रतिनिधित्व करता है। उन्होंने कहा कि अगर मैं फिर से उससे मिलने का प्रयास करूंगी तो,मेरा परिवार और सभी यजीदी लोग कहेंगे कि यह आईएसआईएस का सदस्य है।

हालांकि निहाद अब आईएसआईएस की चंगुल से आजाद होने के बाद अपने परिवार के साथ ऑस्ट्रेलिया में रह रही है, और वह अपनी पढ़ाई पूरी करने से पहले सरकार से सुरक्षा वीजा चाहती है।

ये भी पढ़ें: गुजरात में नहीं दिखा पीएम मोदी का जादू- सभी सीटों पर भाजपा की हार- आपस में भिड़े कार्यकर्ता !

loading...